कर्मचारियों को जल्द मिलेगी गुड न्यूज! सैलरी में होगा 49000 का इजाफा, जानें ताजा अपडेट

न्यूनतम मूल वेतन यानी बेसिक सैलरी 18 हजार से बढ़ाकर 26,000 की जा सकती है।वर्तमान में कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 है, जिसे बढ़ाकर 3.68 तक किया जा सकता है।

7th pay commission da hike

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। 7th Pay Commission: 2022 में एक बार फिर केंद्रीय कर्मचारियों (Central Employees ) की सैलरी में बढ़ोतरी होने वाली है।खबर है कि केन्द्र की मोदी सरकार जल्द कर्मचारियों का फीटमेंट फैक्टर (Fitment Factor) बढ़ा सकती है, जिसकी तैयारियां हो चुकी है।अगर फिटमेंट फैक्टर में इजाफा होता है तो कर्मचारियों की न्यूनतम वेतन में करबी 8 हजार रुपये की बढ़ोतरी होगी, जिसका लाभ लाखों कर्मचारियों को मिलेगा।संभावना है कि 1 फरवरी 2022 को पेश होने वाले बजट में इस फिटमेंट फैक्टर को शामिल किया जा सकता है, हालांकि अभी तक इसकी अधिकारिक पुष्टी नहीं की गई है।

यह भी पढ़े.. Cabinet Meeting 2022: शिवराज कैबिनेट के फैसले पर अमल, दायित्व निर्धारित, ये होंगे सदस्य

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मोदी सरकार (Modi Government) सरकारी कर्मचारियों का फरवरी 2022 से पहले  3 प्रतिशत से ज्यादा फीटमेंट फैक्टर (Fitment Factor Hike) बढ़ा सकती है। इस फैसले से न्यूनतम मूल वेतन यानी बेसिक सैलरी 18 हजार से बढ़ाकर 26,000 की जा सकती है।वर्तमान में कर्मचारियों का फिटमेंट फैक्टर 2.57 है, जिसे बढ़ाकर 3.68 तक किया जा सकता है।फिटमेंट फैक्टर को लेकर कर्मचारी संगठन जल्द ही सरकार के प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे, जिसमें मिनिमम सैलरी में बढो़तरी पर फैसला हो सकता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक,  अगर फिटमेंट फैक्टर 3.68 फीसदी होता है तो सैलरी में 8,000 रुपये की बढ़ोतरी होगी और कर्मचारियों का मूल वेतन बढ़कर 26,000 रुपये हो जाएगा।उदाहरण के तौर पर देखें तो यदि किसी सरकारी कर्मचारी का न्यूनतम वेतन 18,000 रुपये है, तो 2.57 फिटमेंट फैक्टर के अनुसार सभी भत्तों को छोड़कर उसे 46,260 रुपये (18,000 X 2.57 = 46,260) सैलरी मिलेगी। जब फिटमेंट फैक्टर  3.68 होगा तब यही सैलरी 95,680 रुपये (26000X3.68 = 95,680) हो जाएगी।

यह भी पढ़े.. MP से होकर जाने वाली भोपाल-हावड़ा एक्सप्रेस समेत ये ट्रेनें रद्द, ऐसा रहेगा रूट, देखें शेड्यूल

इसका मतलब कुल मिलाकर कर्मचारियों की सैलरी में 49,420 रुपए का इजाफा होगा। अगर बेसिक पे 18,000 रुपये से बढ़कर 26,000 रुपये हो जाता है तो मंहगाई भत्ता भी बढ़ जाएगा।वर्तमान में महंगाई भत्ता (Dearness Allowance – DA) बेसिक वेतन के 31 फीसदी के बराबर है।  ये कैलकुलेशन न्यूनतम बेसिक सैलरी के आधार पर किया गया है, इसी तरह अधिकतम सैलरी वालों के आधार पर भी किया जा सकता है।

गौरतलब है कि आखरी बार फिटमेंट फैक्टर 2016 में बढ़ाया गया था, जिसमें कर्मचारियों का न्यूनतम बेसिक वेतन 6,000 रुपये से बढ़कर 18,000 रुपये किया गया था।फिटमेंट फैक्टर बढ़ने से कर्मचारियों का महंगाई भत्ते में भी इजाफा होगा।फिटमेंट फैक्टर केंद्रीय कर्मचारियों के वेतन में ढाई गुना से अधिक की वृद्धि करता है, जो वेतन भत्तों के अलावा उनके मूल वेतन और फिटमेंट फैक्टर से तय होता है।

यह भी पढ़े.. सीएम शिवराज आज देंगे 3.50 लाख हितग्राहियों को तोहफा, खातों में 875 करोड़ होंगे ट्रांसफर