ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए सिंगापुर से क्रायोजेनिक टैंकर लेकर भारत पहुंचा वायुसेना का विमान

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच ऑक्सीजन की कमी से अस्पतालों में मरीज दम तोड़ रहे हैं। ऐसे में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए सिंगापुर से विमान के जरिए क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक मंगाए हैं।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen) की कमी पूरी करने के लिए केंद्र और राज्य सरकारें हरसंभव प्रयास कर रही है। इसी के तहत सरकार ने सिंगापुर से क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक (Cryogenic oxygen tank) मंगाए हैं। शनिवार शाम साढ़े चार बजे सी-17 विमान पश्चिम बंगाल के पानागढ़ एयरबेस पर उतरा। सिंगापुर से ऑक्सीजन टैंक के चार कंटेनर लाए गए हैं।

यह भी पढ़ें:-भोपाल- रेलवे ने बनाए 20 आइसोलेशन कोच, 25 अप्रैल उपलब्ध होंगे 320 बेड

कई राज्यों में अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी को पूरा करने के लिए स्टील प्लांटों से मेडिकल ऑक्सीजन टैंकरों में ग्रीन कोरिडोर के माध्यम से मंगाई जा रही है, वहीं ऑक्सीजन एक्सप्रेस के जरिए आपूर्ति सुनिश्चित करने की कोशिश की जा रही है। गंभीर स्थिति को देखते हुए भारतीय वायुसेना ने भी मोर्चा संभाला है।

यह भी पढ़ें:- कोरोना कर्फ्यू के बावजूद हालात गंभीर, मप्र सरकार ने फिक्की से मांगा सहयोग

शनिवार को वायुसेना का सी-17 विमान गाजियाबाद के हिंडन हवाई अड्डे से सिंगापुर चांगी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचा। इस विमान पर क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक के चार कंटेनर लोड किए गए। क्रायोजेनिक ऑक्सीजन टैंक लेकर शाम साढ़े चार बजे विमान पश्चिम बंगाल के पानागढ़ एयरबेस पर उतरा।

क्रायोजेनिक कंटेनर को लिक्विड सिलेंडर भी कहा जाता है। इन्हें खासतौर पर लिक्विफाइट गैस के ट्रांसपोर्टेशन और स्टोरेज के लिए डिजाइन किया जाता है। गौरतलब है कि शुक्रवार को भारतीय वायुसेना ने मेडिकल ऑक्सीजन के खाली टैंकरों को विमान के जरिए फिलिंग स्टेशनों तक पहुंचाया था।