पूर्व मुख्यमंत्री की तबीयत बिगड़ी, राजमाता को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे

रायपुर।
छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी की तबीयत एक बार फिर बिगड़ गई है, उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। बताया जा रहा है कि वे अंबिकापुर में राजमाता को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे,जहां अचानक  सांस लेने में दिक्कत हुई और ब्लड प्रेशर भी लो हो गया। उनके साथ चल रहे स्वास्थ्य अमले ने वैन में उनका उपचार किया। जोगी के स्वास्थ्य की खबर लगते ही कई ब़ड़े नेता उनसे मिलने पहुंचे है।

फिलहाल अजीत जोगी की टीम वैनिटी वैन में उनका इलाज कर रही है। मौके पर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ सीएमएचओ भी पहुंच चुके है। बताया जा रहा है वे राजमाता देवेंद्र कुमारी सिंह देव के श्रधांजलि कार्यक्रम में शामिल होने अंबिकापुर पहुंचे थे जब उन्हें मंच पर पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के पास ले जाया गया जहां वे सभी से मुलाकात कर थे, उसी बीच उन्हें अचानक बेहोशी छाने लगी और आनन-फानन उन्हें फिर से उनके विशेष वैन में ले जाया गया, जहां उनका उपचार चल रहा है। जोगी लंबे समय से बीमार चल रहे है, इससे पहले भी कई बार जोगी की तबीयत खराब हो चुकी है। हाल ही उन्हें सांस लेने में तकलीफ के चलते गुरुग्राम स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद अजीत जोगी राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री बने थे। वर्ष 2000 से वर्ष 2003 तक वे राज्य के मुख्यमंत्री रहे। इस दौरान वे अनुसूचित जनजाति वर्ग के लिए आरक्षित मारवाही विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे। वर्ष 2003 में कांग्रेस जब भाजपा से पराजित हुई तब रमन सिंह राज्य के मुख्यमंत्री बने। अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी को जब कांग्रेस से निष्कासित किया गया था तब जोगी ने नई पार्टी का गठन कर लिया था। अभी वह जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के मुखिया हैं तथा मरवाही विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।