असम का इकलौता हिल स्टेशन, नेचर और एडवेंचर लवर्स के लिए है बेस्ट

Haflong Hill Assam : असम में घूमने-फिरने के शौकिन लोग आए दिन हर मौसम में प्लान बनाते हैं। इन दिनों यानि मानसून में यदि आप घूमने का प्लान बना रहे हों तो आप भारत के इस राज्य में स्थित खुबसुरत हिल स्टेशन को एक्सप्लोर करें। दरअसल, हम बात कर रहे हैं असम के हाफलोंग हिल स्टेशन के बारे में जो कि इस मौसम के लिए काफी ज्यादा अच्छा माना जाता है। बता दें कि हाफलांग असम के दिमा हसाओ जिले में स्थित है। जिसे ‘व्हाइट एंट हिलाॅक’ के नाम से जाना जाता है।

असम का इकलौता हिल स्टेशन, नेचर और एडवेंचर लवर्स के लिए है बेस्ट

इस रोमांचक और सांस्कृतिक स्थान पर आपको स्थानीय आदिवासी जनजातियों के विविध नृत्य, संगीत और स्थानीय खान-पान का भी आनंद ले सकते हैं। हाफलोंग के इस सांस्कृतिक अनुभव के माध्यम से आप असम की अर्थव्यवस्था और समृद्ध संस्कृति को भी समझ सकते हैं। यदि आप नेचर और सांस्कृतिक के प्रेमी हैं तो हाफलोंग आपके लिए बेस्ट हो सकता है।आइए विस्तार से जानें…

हाफलोंग झील

हाफलोंग झील असम के सबसे बड़े प्राकृतिक जल स्त्रोतों में से एक है। यहां की सुंदरता दिल को छू जाती है। बता दें कि यह झील हाफलोंग शहर के बीच में स्थित है जो कि हैंगिंग ब्रिज के साथ जुड़ी हुई है। झील के चारों ओर घने वन्य जंगल, हिल्स और प्राकृतिक सौंदर्य से भरे प्राकृतिक नजारे है, जिसे देखकर आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगे।

माईबोंग

माईबोंग पहाड़ी इलाका और नदी के किनारे स्थित होने के कारण प्राकृतिक सौंदर्य से भरा हुआ है। यहां आप झरनों को देखने का आनंनद उठा सकते हैं। यहां के शांत वातावरण में घूमकर आपका मन शांति और सकारात्मकता से भर जाएगा।

जतिंगा

जतिंगा घाटी अपने आपने में एक रहस्यमय है। बता दें कि यह जगह पक्षियों के सुसाइड पॉइंट के रूप में जाना जाता है। इस अद्भुत स्थान के पीछे के रहस्य को समझने के लिए लोग उत्साह से देखने के लिए यहां आते हैं। दरअसल, इस जगह की रहस्यमय और रोमांचक खासियत इसे भारत के अनोखे पर्यटन स्थलों में से एक बनाती है।

इस समय जाएं

बता दें कि यहां का मौसम साल भर खुशनुमा बना रहता है। आप यहां अप्रैल से जून के बीच या फिर अक्टूबर से जनवरी के बीच जा सकते हैं। इस दौरान आपको प्राकृतिक सौंदर्य का लुफ्त उठाने का लाभ मिल सकता है।

ऐसे पहुंचे

हवाई मार्ग: हाफलांग जाने के लिए आपको सिलचर एयरपोर्ट जाना होगा। यहां से आप टैक्सी ले कर अपने डेस्टीनेशन पहुंच सकते हैं।

रेल मार्ग: आप गुवाहटी से ट्रेन से हाफलांग तक आसानी से पहुंच सकते हैं।

सड़क मार्ग: अगर आप अपनी गाड़ी के साथ हाफलांग जाना चाहते हैं तो आप टैक्सी बुक करके हाफलांग जा सकते हैं और यदि खुद की गाड़ी है तो भी आपको समस्या नहीं होगी। क्योंकि यहां जाने के लिए आपको सीधी बस सेवा उपलब्ध नहीं है।


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News