उत्तराखंड: भारी बर्फ की चादर में लिपटा बद्रीनाथ मंदिर

चमोली जिले का बदरीनाथ धाम शनिवार को हुई बर्फबारी के बाद बर्फ की चादर में लिपट गया।

Badrinath Dham, Uttrakhand: अलकनंदा नदी के किनारे चमोली जिले में गढ़वाल पहाड़ी पटरियों पर स्थित, बद्रीनाथ मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित है। बद्रीनाथ धाम के कपाट इन दिनों शीतकाल के लिए बंद रहते हैं। यह मंदिर उन चार प्राचीन तीर्थ स्थलों में से एक है, जिन्हें ‘चार धाम’ कहा जाता है, जिसमें यमुनोत्री, गंगोत्री और केदारनाथ भी शामिल हैं। यह उत्तराखंड के बद्रीनाथ शहर में स्थित है।

यह हर साल छह महीने (अप्रैल के अंत और नवंबर की शुरुआत के बीच) के लिए खुला रहता है।

बारिश की चेतावनी 

5 फीट तक जमा हो चुकी है बर्फ। भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शनिवार को आगामी सप्ताह के लिए उत्तर भारत में बारिश की भविष्यवाणी की। आईएमडी वैज्ञानिक डॉ सोमा सेन रॉय ने कहा, अपकमिंग वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के बीच, उत्तर भारतीय क्षेत्र में इंटेंस वैदर कंडीशंस देखी जा सकती है। अकोर्डिंगली, हम खासकर पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में ठंड के मौसम की उम्मीद कर रहे हैं।

23 जनवरी से ठंड मौसम शुरू हो जाएगा। 24 जनवरी तक इसका असर अगल-बगल के जगहों पर पड़ेगा और 25 जनवरी तक जारी रहेगा। आसमान में बादल छाए रहेंगे, हल्की बूंदाबांदी, मैदानी इलाकों में बारिश और जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड में भारी बारिश 24 और 25 तारीख के आसपास होने की उम्मीद है।