स्वाति मालीवाल के सवाल पर अखिलेश यादव के रिएक्शन से भड़की मायावती, कह दी ये बड़ी बात

मीडिया ने आज जब अरविंद केजरीवाल से स्वाति मालीवाल के विषय में सवाल किया तो वे इधर उधर देखने लगे, केजरीवाल तनाव में भी दिख रहे थे। उन्होंने माइक अखिलेश यादव की तरफ कर दिया जिसके बाद अखिलेश बोले अरे इससे ज्यादा जरूरी और चीजें भी हैं, कागज निकाल लेता हूँ, मीडिया ने फिर पूछा तो अखिलेश ने कहा भाजपाई किसी के सगे नहीं हैं भाजपाई झूठे मुक़दमे लगाने वाली गैंग है।

Swati Maliwal

Swati Maliwal issue : स्वाति मालीवाल अभद्रता मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल चुप्पी साधे हुए हैं वहीं समाजवादी पार्टी के प्रमुख एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को सीएम हाउस के अन्दर महिला राज्य सभा सदस्य से अभद्रता कोई मुद्दा नहीं लगता उन्होंने आज कहा कि इससे ज्यादा जरूरी और चीजें भी हैं, बसपा प्रमुख मायावती को अखिलेश की ये टिप्पणी पसंद नहीं आई है और उन्होंने अपनी प्रतिक्रिया दी है।

BSP प्रमुख मायावती की मांग, राज्यसभा सभापति और महिला आयोग संज्ञान ले 

मायावती ने X पर लिखा- .महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान व उत्पीड़न के साथ ही किसी भी नेता द्वारा अन्य कोई भी गलत कार्य करने पर सख्त कार्रवाई के मामले में चाहे कोई भी पार्टी या इंडी व अन्य गठबन्धन हो तो इन्हें दोहरा मापदण्ड नहीं अपनाना चाहिए अर्थात् इन्हें बीएसपी के शीर्ष नेतृत्व से ज़रूर सबक लेना चाहिए। अतः आप पार्टी की महिला राज्यसभा सांसद के साथ सीएम आवास में अभद्रता के गंभीर मामले पर देश की नजर तथा दोषी के विरुद्ध अब तक कार्रवाई नहीं होना अनुचित। ऐसे में राज्यसभा के सभापति व महिला आयोग को भी इस घटना का समुचित संज्ञान लेने की जरूरत है।

Continue Reading

About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....