Kerala सरकार की सराहनीय पहल, दहेज संबंधी सभी अपराधों के लिए चालू की 24 घंटे पुलिस हेल्पलाइन

मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने लिंग के आधार (gender-based) पर होने वाले क्राइम के खिलाफ दो टूक बोलते हुए कहा कि ऐसा होना भारत के संविधान (indian constitution) के खिलाफ है क्योंकि संविधान हमे समानता का अधिकार देता है।

pinarayi vijayan

केरल, डेस्क रिपोर्ट। केरल (kerala) के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने राज्य में दहेज (dowry), घरेलू हिंसा (domestic violence), उत्पीड़न और इस तरह की अन्य शिकायतों के खिलाफ 24 घंटे पुलिस हेल्पलाइन )police helpline) सेवा चालू की है। इस सेवा का नंबर 9497996992 है। मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने लिंग के आधार (gender-based) पर होने वाले क्राइम के खिलाफ दो टूक बोलते हुए कहा कि ऐसा होना भारत के संविधान (indian constitution) के खिलाफ है क्योंकि संविधान हमे समानता का अधिकार देता है।

यह भी पढ़ें… New Transfer Policy : इन अधिकारी-कर्मचारियों के नहीं होंगे तबादलें 1 जुलाई से होंगे तबादले

दरअसल केरल में 24 घंटे के अंदर दहेज को लेकर घरेलू हिंसा की वजह से 3 मौते सामने आई है। जिसके बाद ये बड़ा फैसला लिया गया है। केरल सरकार की ये पहल सराहनीय है।

सीएम विजयन ने कहा कि कानून लिंग-आधारित क्राइम को निषेध करता है और सरकार को कानून का वहन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि aparajita.pol@kerala.gov.in ईमेल के माध्यम से और पुलिस हेल्पलाइन के माध्यम से आने वाले सभी मामलों को जिला पुलिस को खुद अपने संज्ञान में लेना होगा और उन पर कार्रवाई करनी होगी।

यह भी पढ़ें… ICC World Test Championship: अगली टेस्ट चैंपियनशिप जुलाई 2021 से होगी शुरू, शेड्यूल जारी

उन्होंने ये भी कहा कि लिंग समानता को बच्चों की पढ़ाई में भी ऐड करना होगा और हर क्षेत्र में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देना होगा।