एक और विधायक का निधन, पार्टी में शोक लहर

चेन्नई।
द्रमुक विधायक एस कथावारायण का निधन हो गया है। वह 58 साल के थे और लंबे समय से बीमार चल रहे थे।पिछले दो दिनों में पार्टी के दो विधायकों का निधन हो गया है।द्रमुक अध्यक्ष एम.के. स्टालिन ने विधायक की मौत पर शोक व्यक्त किया है। इस बीच, द्रमुक पार्टी ने अपने सांसदों की बैठक स्थगित कर दी है जो शनिवार के लिए निर्धारित थी।विधायकों के निधन के कारण 234 सदस्यीय तमिलनाडु विधानसभा में द्रमुक के विधायकों की संख्या कम होकर 98 रह गई है।कथावारायण को लोकसभा चुनाव के साथ 22 निर्वाचन क्षेत्रों में हुए उपचुनाव में पिछले साल विधानसभा में चुना गया था।

द्रविड़ मनेत्र कड़गम (द्रमुक) विधायक एस. कातवरायन का आज बीमारी के कारण यहां निधन हो गया। पार्टी ने इसकी पुष्टि की।मई 2019 में हुए उपचुनावों के बाद 58 वर्षीय कथावारायण गुडियात्तम निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए थे।इससे पहले गुरुवार को एक और डीएमके विधायक के.पी. बीमारी के कारण समी की मौत हो गई थी।वह तिरुवोटियूर निर्वाचन क्षेत्र से विधानसभा के लिए चुने गए थे। कातवरायन के निधन के बाद विधानसभा में द्रमुक के विधायकों की संख्या घटकर 98 हो गई।

द्रमुक अध्यक्ष एम.के. स्टालिन ने विधायक की मौत पर शोक व्यक्त किया है। इस बीच, द्रमुक पार्टी ने अपने सांसदों की बैठक स्थगित कर दी है जो शनिवार के लिए निर्धारित थी।स्टालिन ने कथावारायण द्वारा निभाई गई विभिन्न जिम्मेदारियों का जिक्र किया।उन्होंने मृतक के परिजन के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए कहा कथावारायण को उपचुनाव में सभी का समर्थन मिला।वही तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित ने विधायक के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा मैं शोकसंतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करता हूं और ईश्वर से दिवंगत की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं।