Ration Card : राशन कार्ड धारकों के लिए अच्छी खबर, मुफ्त राशन सहित मिलेंगे 1000 रुपए, सरकार की बड़ी घोषणा, इस दिन से शुरू होगी प्रक्रिया

Ration Card Holders Free Ration: राशन कार्ड धारकों के लिए बड़ी खबर है। दरअसल यदि आप भी राशन कार्ड की योजना का लाभ ले रहे हैं तो सरकार द्वारा हुई घोषणा के तहत अगले साल भी मुफ्त राशन योजना जारी रहेगी। इसके साथ ही राज्य सरकार द्वारा अगले महीने राशन कार्ड धारकों को ₹1000 प्रदान करने के निर्देश दिए गए हैं।

लाखों राशन कार्ड धारकों को ₹1000 उपलब्ध कराए जाएंगे। तमिलनाडु सरकार द्वारा राज्य के लोगों के लिए यह फैसला किया गया। राज्य के मुख्यमंत्री एम के स्टालिन ने अगले महीने पोंगल पर्व के मौके पर राशन कार्ड धारकों को 1-1 हजार रुपए देने का आदेश दिया है। हर साल पोंगल के मौके पर गरीबों को कुछ राशि दी जाती है। इसके साथ ही उपहार के रूप में उन्हें चावल चीनी जैसे सामान भी उपलब्ध कराए जाते हैं।

2 करोड़ से अधिक राशन कार्ड धारकों को होगा फायदा 

सरकार के इस फैसले का फायदा 2 करोड़ से अधिक राशन कार्ड धारकों को होगा। वही सरकारी खजाने से इस पर 2356 करोड़ रुपए का अतिरिक्त बोझ देखने को मिलेगा। पोंगल उपहार योजना 2 जनवरी से शुरू की जा सकती है। वहीं 15 जनवरी को पोंगल त्यौहार है। प्रदेश भर में मनाया जाएगा। इसके अलावा सभी राशन कार्ड धारकों को उपहार के रूप में चावल भी दिए जाएंगे। साथ ही श्रीलंका पुनर्वास शिविर में रह रहे परिवार पर भी यह लागू होगा। उन्हें 1 किलो चावल और 1 किलो चीनी उपलब्ध कराया जाएगा।

उत्तराखंड : नए साल में इस योजना को किया जा सकता लागू

इसके अलावा उत्तराखंड सरकार द्वारा भी राशन कार्ड धारकों के लिए बड़ी घोषणा की गई है। राशन की दुकानों से गरीबों को फ्री चीनी और नमक भी मुहैया करवाया जा सकता है। इसके साथ ही लाभार्थियों को बेहद रियायत मूल्य पर भी नमक और चीनी का लाभ दिया जाएगा। अंत्योदय राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के तहत 14 लाख राशन कार्ड धारकों के लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है।

राज्य सरकार की योजना के तहत पहले प्रस्ताव में अंत्योदय कार्ड धारकों को हर महीने 1 किलो चीनी और 1 किलो नमक देने पर विचार किया जा रहा है। 18 लाख कार्ड धारकों को इसका लाभ मिलेगा, जिस कारण सरकार पर आर्थिक बोझ की भी संभावना कम रहेगी। वहीं नए साल में इस योजना को लागू किया जा सकता है।

खाद मंत्री रेखा आर्य के मुताबिक अधिकारियों को चीनी नमक योजना का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए गए हैं। अप्रैल से राशन की दुकानों से फोर्टीफाइड चावल मिलने शुरू हो जाएंगे। वहीं चीनी और नमक भी रियायती मूल्य पर गरीब व्यक्ति को उपलब्ध कराए जाएंगे। जिससे उन्हें राहत मिलेगी।

तेलंगाना सरकार की तैयारी

तेलंगाना सरकार द्वारा भी बड़ी तैयारी की गई है। केंद्र के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार द्वारा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के तहत गरीबों को मुफ्त खाद्यान्न योजना के विस्तार की घोषणा के बाद राज्य सरकार द्वारा भी बड़े ऐलान किए गए हैं। तेलंगना में 55 लाख राशन कार्ड धारक है। वहीं राज्य सरकार द्वारा 90 लाख घरों में 2.83 करोड़ व्यक्ति को कवर करते हुए आय सीमा बढ़ाकर अधिक लाभार्थी को राशन कार्ड योजना से जोड़ा जाएगा।