पति-पत्नी को हर महीने मिलेगी 18,300 रुपये पेंशन, जाने कौन सी है ये खास स्कीम

pensioners pension

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। अगर आप नौकरीपेशा दम्पति है और रिटायरमेंट के बाद भविष्य को लेकर चिंतित है तो केंद्र सरकार (Central Government) की प्रधानमंत्री वय वंदना योजना (Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana) आपके काम की है। इसके तहत पति-पत्नी दोनों 15-15 लाख रुपए निवेश करते हैं, तो कुल 30 लाख का निवेश होगा औ आपको हर महीने 18,300 रुपये रुपए पेंशन मिलेगी।आसान शब्दों में कहे तो कोई भी निवेशक अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश करता है तो अधिकतम मासिक पेंशन 9250 रुपये मिलेगी।

यह भी पढ़े.. एमपी निकाय चुनाव: BJP की जीत को लेकर कैलाश विजयवर्गीय का बड़ा दावा, देखें वीडियो

दरअसल, मोदी सरकार ने 2017 में प्रधानमंत्री वय वंदन योजना (PMVVY) योजना को शुरू किया था, हाल ही प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केन्द्रीय कैबिनेट बैठक (Modi Cabinet Meeting) में इसकी अवधि को बढ़ाकर 31 मार्च 2023 तक किया गया है।।इसके तहत योजना (PM Vaya Vandana Yojana) में कोई भी निवेशक अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश कर सकता है। खास बात ये है कि यह पेंशन मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर भी ली जा सकती है।निवेश के आधार पर 1000 से लेकर 9250 रुपये प्रति माह की पेंशन प्रदान की जाती है।

इस योजना में अधिकतम मासिक पेंशन 9250 रुपये मिलेगी।तिमाही पेंशन 27,750 रुपये, छमाही पेंशन 55,500 रुपये और अधिकतम सालाना पेंशन 1,11,000 रुपये मिलने का प्रावधान है। योजना के तहत 1000 रुपये मासिक पेंशन के लिए ग्राहक को न्यूनतम 1.62 लाख रुपये निवेश करने होंगे। तिमाही पेंशन के लिए 1.61 लाख, छमाही के लिए 1.59 लाख और सालाना पेंशन के लिए न्यूनतम 1.56 लाख रुपये निवेश करने होंगे। पहले इस योजना के तहत निवेश करने की अधिकतम सीमा पहले 7.50 लाख रुपये थी जिसे अब बढ़ा कर 15 लाख रुपये कर दिया गया है।

यह भी पढ़े.. हाई कोर्ट का बड़ा फैसला, 8 हफ्ते में मिलेगी अनुकंपा नियुक्ति, राज्य सरकार को दिया ये आदेश

इस योजना में 60 साल या उससे अधिक उम्र के लोग मासिक या सालाना पेंशन प्लान चुन सकते है और आपको 10 साल तक 8 परसेंट का ब्याज मिलेगा, अगर आप वार्षिक पेंशन का चुनाव करते हैं तो आपको 10 साल के लिए 8.3% का ब्याज मिलेगा। इस स्‍कीम को LIC के अधीन रखा गया है और पेंशन स्‍कीम होने की वजह से 60 साल की उम्र के बाद ही इसका लाभ मिल सकता है। निवेशक 10 साल की पॉलिसी अवधि के बाद भी जीवित रहता है तो उसे पेंशन की अंतिम किस्त के साथ निवेश की राशि भी वापस मिलेगी। वहीं इस दौरान मौत हो जाती है तो उसके नॉमिनी को पूरी निवेश की राशि दी जाती है।

सभी सामान्य बीमा स्कीम में टर्म इंश्योरेंस पर 18% जीएसटी लगाया जाता है, लेकिन PMVVY योजना पर जीएसटी नहीं लगाया जाता है।सबसे अच्छी बात ये है कि अगर आपको पॉलिसी लेने के कुछ दिन के अंदर लगता है कि आप इसमें निवेश जारी नहीं रखना चाहते हैं, तो आप इसे वापस ले सकते हैं। अगर आपने ऑनलाइन ये पॉलिसी खरीदी थी तो 30 दिन में और ऑफलाइन पॉलिसी की दशा में 15 दिन के अंदर आप इसे वापस ले सकते हैं। यह 10 साल की समयावधि वाली योजना है, जिसमें अगर 10 साल के भीतर पॉलिसीधारक की मृत्यु हो जाती है, तो मूल राशि नॉमिनी के खाते में चली जाती है।

कैसे करें आवेदन

  • इस स्कीम में आप ऑनलाइन आवेदन LIC की Official Website पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करके पालिसी खरीद कर सकते है ।
  • ऑफलाइन आवेदन LIC की ब्रांच पर जाकर कर सकते है।
  • प्रधानमंत्री वय वंदना योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप 022-67819281 या 022-67819290 नंबर पर कॉल कर सकते हैं।
  • टोल फ्री नंबर- 1800-227-717 और ईमेल आईडी- onlinedmc@licindia.com के जरिए भी स्‍कीम के फायदे को समझा जा सकता है।
  • https://eterm.licindia.in/onlinePlansIndex/pmvvymain.do लिंक पर विजिट कर विस्‍तार से स्‍कीम के बारे में समझ सकते हैं।