IMD Alert : तापमान में गिरावट से मिलेगी राहत, 12 राज्यों में 15 अप्रैल तक बारिश का अलर्ट, 5 राज्य में हीटवेव की चेतावनी

आईएमडी ने एक ट्वीट में जानकारी दी है कि 12 अप्रैल से उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में हीटवेव की स्थिति की तीव्रता में काफी कमी आने की संभावना है।

उत्तर मध्य भारत में गर्मी का कहर जारी है। हालांकि IMD Alert की माने तो मौसम में बदलाव (weather update) दिखेगा। 12 अप्रैल के बाद से गर्मी (heatwave) से थोड़ी राहत देखने को मिल सकती है। पश्चिमी विक्षोभ (western disturbance) के पश्चिमी हिमालयी से टकराने के कारण तापमान (temperature) में दो से तीन फीसद की गिरावट संभव है। जिसके बाद हिट वेव में थोड़ी कमी देखने को मिलेगी। हालांकि दिल्ली, मध्य प्रदेश, राजस्थान और पंजाब में हीटवेव का अलर्ट जारी किया गया। इसके अलावा दर्जनभर राज्यों में भारी बारिश (rain alert) से जनजीवन और वातावरण में ठंडक देखने को मिल रही है।

भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने कई राज्यों में भारी बारिश की भविष्यवाणी की है। जिससे उत्तर भारत में प्रचंड गर्मी से राहत प्रदान कर सकती है। मौसम एजेंसी के अनुसार, 12 अप्रैल की रात को एक नया पश्चिमी विक्षोभ पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र से टकराएगा और उत्तर पश्चिम भारत के कई हिस्सों में अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आएगी। वहीँ दर्जनभर राज्यों मी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। हलाकि कुछ राज्यों में हीट वेव से लोगों को सतर्क रहने कि सलाह दी गई है। जिसमे राजस्थान, हरियाणा, एमपी, झारखंड, उत्तराखंड आदि राज्य शामिल है।

Read More : MP : खाद्यान्न वितरण को लेकर शासन की बड़ी तैयारी, उपभोक्ताओं को मिलेगा लाभ, संचालक की तय होगी जिम्मेदारी

राजधानी दिल्ली में न्यूनतम तापमान 40 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड किया जा सकता है। वहीं राजधानी में हीटवेव चलने की संभावना जताई गई है। कल से तापमान में कमी देखने को मिल सकती है। इसके साथ ही कल से ठंडी हवा चलने से मौसम में थोड़ी राहत मिलेगी। इधर गुजरात के अहमदाबाद में न्यूनतम तापमान 24 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है राजस्थान में भी आसमान साफ रहेगा तेज धूप खिली रहेगी कुछ क्षेत्रों में ही heatwave का अलर्ट जारी किया गया है। वहीं लोगों को सतर्क रहने की सलाह दी गई है।

पर्वतीय राज्य में भी तापमान में वृद्धि देखने को मिल रही है। देहरादून में न्यूनतम तापमान 19, अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया जा सकता है। राजस्थान के जयपुर में भी न्यूनतम तापमान 29 डिग्री व अधिकतम 41 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच रहा है। मध्य प्रदेश के कई इलाकों में टेंपरेचर 43 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड किया गया है। हीटवेव की गति जारी है। हालांकि पश्चिमी विक्षोभ के पश्चिमी हिमालय क्षेत्र से टकराने के बाद तापमान में दो से तीन फीसद की गिरावट देखने को मिल सकती है।

राजधानी लखनऊ में जहां न्यूनतम तापमान 24 डिग्री व अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। राजधानी पटना में न्यूनतम तापमान 22 डिग्री व अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है। आसमान साफ रहने की वजह से ही देखने को मिलेगी। इसके अलावा महाराष्ट्र के मुंबई में भी न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने की उम्मीद है। हालांकि आसमान में बादल छाए रहेंगे। कुछ क्षेत्रों में बूंदाबादी देखने को मिल सकती है।

Read More : सीएम शिवराज ने बुलाई अहम बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला, पुलिसकर्मियों की छुटियां निरस्त

जम्मू कश्मीर की बात करे जम्मू में न्यूनतम तापमान 22 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तक रहने की आशंका जताई गई है। लेह लद्दाख में भी तापमान में एक से दो फीसद की वृद्धि देखने को मिली है। न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस तापमान 4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया है। हिमाचल प्रदेश में भी तापमान में एक से दो फीसद की बढ़ोतरी देखी जा रही है।

पूर्वी क्षेत्रों की बात करें तो मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, नागालैंड आदि में बारिश का दौर जारी है। लगातार हो रही बारिश से वहां मौसम में ठंडक घुली हुई है जबकि दक्षिणी राज्य में केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, लक्षद्वीप में भी हल्की बूंदाबांदी साहिल सहित कई क्षेत्रों में भारी बारिश जारी है। दक्षिण भारत में हो रही बारिश से तापमान में भारी गिरावट देखने को मिल रही है। अरुणाचल प्रदेश, असम में भी बूंदाबांदी का दौर जारी है।

Read More :  सरकार का 5 लाख कर्मचारी-पेंशनर्स को बड़ा तोहफा, DA में 3 फीसद की वृद्धि, आदेश जारी, मई में एरियर्स का भी होगा भुगतान

भारत में वर्षा का पूर्वानुमान

आईएमडी ने एक ट्वीट में जानकारी दी है कि 12 अप्रैल से उत्तर पश्चिमी भारत के मैदानी इलाकों में हीटवेव की स्थिति की तीव्रता में काफी कमी आने की संभावना है। अगले पांच दिनों में असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में बारिश की संभावना है।

12, 13, 14 और 15 अप्रैल को असम और मेघालय में भारी बारिश की संभावना है। 13-15 अप्रैल को अरुणाचल प्रदेश में बारिश की संभावना जताई गई है। 12-15अप्रैल को नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में बारिश की संभावना है और 12 अप्रैल को उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के कुछ क्षेत्रों में बारिश की उम्मीद जताई गई है।

केरल में, गरज के साथ/बिजली के साथ हल्की व्यापक/व्यापक वर्षा होने की अत्यधिक संभावना है।माहे में अगले पांच दिनों के दौरान तमिलनाडु-पुडुचेरी-कराइकल, लक्षद्वीप, तटीय आंध्र प्रदेश और तटीय और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक के साथ अलग-अलग / बिखरी हुई वर्षा होगी। 12 से 15 अप्रैल को, तमिलनाडु, पुडुचेरी और कराईकल में बहुत भारी वर्षा की संभावना है। 14 और 15 अप्रैल को केरल में भारी बारिश की संभावना है और 12 से 15 अप्रैल को तमिलनाडु में भारी बारिश की संभावना है।

हीटवेव का अलर्ट

पश्चिम राजस्थान में 12 से 14 अप्रैल तक हीटवेव की स्थिति बनी रहने की उम्मीद है। 12 अप्रैल से, पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में छिटपुट इलाकों में भीषण गर्मी की स्थिति होने की उम्मीद है। उत्तर प्रदेश (पूर्व और पश्चिम) और पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में भी लू से गंभीर लू की स्थिति बनने की संभावना है। 12 से 15 अप्रैल तक झारखंड में भी लू चलने की संभावना है। 12 अप्रैल से लेकर 15 अप्रैल तक को हिमाचल प्रदेश और जम्मू संभागों में और 12-15 अप्रैल तक छत्तीसगढ़ में हीटवेव का अलर्ट जारी किया गया है।