Lockdown 5.0 की तैयारी, जाने कहां मिलेगी छूट और कहां रहेगी सख्ती!

2886

नई दिल्ली।
देशभर में कोरोना का कहर जारी है, आंकड़ों में आए दिन इजाफा हो रहा है और लॉकडाउन 4.0 खत्म होने में सिर्फ एक दिन बचा है ऐसे में सबके मन में एक सवाल है क्या लॉकडाउन 5.0 भी लागू होगा और इसमें क्या क्या छूट मिलेगी। माना जा रहा है कि रविवार तक इन सब सवालों के जवाब मिल जाएंगे। सरकार राज्यों से चर्चा कर Lockdown 5.0 की गाइडलाइन जारी करेगी। कहा जा रहा है कि सरकार पांचवे चरण में सबसे ज्यादा फोकस हॉटस्पॉट वाले शहरों या इलाकों पर करेगी।सुत्रों की माने तो यह दो हफ्ते का हो सकता है।

दरअसल, बीते दिनों कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने राज्यों के मुख्य सचिवों और स्वास्थ्य सचिवों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस की है और देश के सबसे ज्यादा कोरोना से प्रभावित 13 शहर जिसमें मुंबई, चेन्नई, दिल्ली, अहमदाबाद, ठाणे, पुणे, हैदराबाद, कोलकाता, इंदौर, जयपुर, जोधपुर, चेंगलपट्टू और तेरूवल्लुर शामिल है, में लॉकडाउन-5 के बढाने के संकेत दे दिए थे। ऐसे में साफ हो गया है कि सरकार लॉकडाउन का पांचवा फेज बढाने की तैयारी में है।

यह लॉक डाउन 4.0 से थोड़ा अलग होगा, इसमें खास करके रेड जोन वाले इलाकों पर विशेष फोकस किया जाएगा।लॉकडाउन 5.0 में हॉटस्पॉट वाले इलाके में प्रतिबंधों पर पूरा जोर दिया जाएगा। कुछ सेवाएं पूरे देश में प्रतिबंधित रह सकती हैं, लेकिन अन्य सेवाओं को शारीरिक दूरी, मास्क और अन्य शर्तों के साथ छूट दी सकती है।लॉकडाउन 5 के दौरान सिर्फ कंटेनमेंट जोन छोड़कर अन्य सभी जोन में सैलून और जिम खोलने की इजाजत दी जा सकती है। इसके अलावा मंदिरों-मस्जिदों और अन्य धार्मिक स्थलों को भी खोला जा सकता है। वहीं स्कूल, कॉलेज-यूनिवर्सिटी बंद रहेंगे। इसके अलावा मॉल और मल्टीप्लैक्स को भी बंद रखा जा सकता है।

सूत्रों के मुताबिक, प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) सभी राज्यों से चौथे चरण के लॉकडाउन की रिपोर्ट मांगेंगे और इसके बाद लॉकडाउन 5.0 पर चर्चा की जाएगी। लॉकडाउन की जिम्मेदारी केंद्र, राज्यों सरकारों के कंधे पर डाल सकता है। माना जा रहा है कि, 30 मई को गृहमंत्रालय इस पर कोई बड़ा फैसला ले सकता है। चुंकी 31 मई को पीएम मोदी भी देशवासियों के साथ मन की बात करेंगे और स्थिति साफ होगी। माना जा रहा है कि यह दो हफ्ते का हो सकता है। इसके अलावा लॉकडाउन के पांचवे चरण में कोरोना के हॉटस्पॉट वाले इलाकों पर सख्ती की जाएगी।

क्या कहते है राज्यों के मुख्यमंत्री
कई राज्‍य चाहते हैं कि लॉकडाउन का पांचवां चरण पूरी सख्‍ती से लागू हो तो कुछ राज्‍य चाहते हैं कि कुछ शर्तों व ढील के साथ लॉकडाउन का पांचवा चरण लागू हो। कुछ राज्य लॉकडाउन को पांचवें चरण में ले जाने के पक्ष में हैं तो कुछ ने कहा है कि वे 31 मई के बाद केंद्र जो भी फैसला लेगा वे उसके साथ हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here