इस क्रिसमस पर बनाइये राजस्थान घूमने का टूर, IRCTC दे रहा एक शानदार ऑप्शन

IRCTC Rajasthan Tour : महाराजाओं की धरती के नाम से प्रसिद्द स्वाद, संस्कृति, लोकगीत, लोक नृत्य के आकर्षण वाले राजस्थान का नाम सुनते ही खम्मा घणी, ऊंट, रंगबिरंगी पोशाक पहने महिलाएं, रंगीन पगड़ी लगाये पुरुष, बड़े बड़े महल आँखों के सामने आने लगते हैं, जी हाँ ऐसा ही है राजस्थान।  जो भी नाम सुनता है आकर्षित हो जाता है, आप भी यदि राजस्थान घूमना चाहते हैं तो एक बार IRCTC का ये टूर प्लान अवश्य देखिये।

राजस्थान टूर के लिए 23 दिसंबर को कोलकाता से उड़ान भरेगा हवाई जहाज  

इंडियन रेलवे केटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन (IRCTC) ने इस बार क्रिसमस के लिए राजस्थान का स्पेशल टूर एनाउंस किया है , टूर का नाम CHRISTMAS SPECIAL SHADES OF ROYAL RAJASTHAN है, टूर के लिए 23 दिसंबर को कोलकाता से हवाई जहाज उड़ान भरेगा।

9 रात/10 दिन का है टूर, मुफ्त रहेगा ब्रेकफास्ट और डिनर

रेलवे द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के मुताबिक राजस्थान टूर 9 रात/10 दिन का है, हवाई जहाज में 30 सीटों की जगह है , यात्रियों को कम्फर्ट क्लास में यात्रा कराई जाएगी, टूर के दौरान ब्रेकफास्ट और डिनर की चिंता यात्रियों को नहीं करनी है, ये व्यवस्था IRCTC ही करेगी।

इतना देना होगा प्रति व्यक्ति किराया 

जानकारी के मुताबिक रेलवे ने इस टूर के लिए 52,860/- रुपये प्रति व्यक्ति किराया निर्धारित किया है, ये किराया तीन वयस्क यात्रियों के समूह पर लागू होगा, यदि दो लोग जायेंगे तो 54,930/- प्रति व्यक्ति किराया देना होगा और यदि अकेला व्यक्ति जाता है तो उसे टिकट के लिए 71,340/- खर्च करने होंगे। बच्चों के टिकट अलग से लेने होंगे।

ऐसे कर सकते हैं टिकट बुकिंग 

इस टूर की पूरी डिटेल और टिकट बुकिंग के लिए आप IRCTC की अधिकारिक वेबसाईट या फिर IRCTC के अधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर विजिट कर सकते हिं इसके अलावा आप tinyurl.com/EHA017H इस एड्रेस को क्लिक कर भी जानकारी प्राप्त कर सके हैं।

टूर के दौरान ये डेस्टिनेशन होंगे कवर 

ये टूर आपको राजस्थान का वैभव, खूबसूरती, संस्कृति सभी के दर्शन कराएगा इसमें जयपुर, उदयपुर, माउन्ट आबू, जोधपुर, सैम रेगिस्तान, जैसलमेर, पुष्कर जैसे विश्व प्रसिद्द डेस्टिनेशन आपको देखने के लिए मिलेंगे , इसलिए जल्दी  कीजिये और अपनी क्रिसमस की छुट्टियों का सही आनंद लीजिये।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News