करवा चौथ के दिन पत्नी ने पति को किया पुलिस के हवाले, कहा- ‘गोली मत मारना’

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। रविवार से ही करवा चौथ को लेकर कई तरह की तस्वीरें और खबरों का सिलसिला जारी है। पति-पत्नी के प्रेम और समर्पण के प्रतीक इस त्योहार पर ज्यादातर सुंदर सुंदर फोटोग्राफ्स और कहानियां दिखाई दे रही है। लेकिन इसी बीच एक खबर है नजफगढ़़ की, जहां इंसाफ और कानून को सबसे ऊपर मानते हुए पत्नी ने अपने अपराधी पति को पुलिस के हवाले कर दिया।

ईद मिलादुन्नवी के मौके पर उपद्रव करने वाले तीन आरोपियों के खिलाफ एनएसए की कार्रवाई..

मामला नजफगढ़ इलाके का है जहां हत्या का आरोपी राजीव गुलाटी काफी समय से फरार चल रहा था। रविवार को द्वारका जिले के डीसीपी शंकर चौधरी अपने वरिष्ठ अधिकारी जॉइंट सीपी अतुल कटियार के साथ जिले में गश्त कर रहे थे। उसी दौरान पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी अपने घर पर है। ये जानकारी और किसी ने नहीं, खुद आरोपी की पत्नी ने फोन कर पुलिस को दी। करवा चौथ वाले दिन वह अपनी पत्नी से मिलने पहुंचा था और उस समय पत्नी ने सही निर्णय लेते हुए पुलिस को फोन कर दिया। इस दौरान महिला ने फोन पर ये भी कहा कि “आज करवा चौथ है, मैंने अपने पति के लिए व्रत रखा है, उसे गोली मत मारना।”

इस फोन के बाद पुलिस उसके घर पहुंची और वहां से उसे गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि राजीव गुलाटी है पर आरोप है कि उसने 19 अक्टूबर को राम बाजार में एक दुकान के अंदर घुसकर मां-बेटी को गोली मार दी थी। ये मां बेटी उसकी ताई और रिश्ते की बहन थीं और उनके बीच संपत्ति और पैसों को लेकर विवाद चल रहा था। इस घटना में बुजुर्ग महिला की मौत हो गई जबकि बेटी का अब भी इलाज चल रहा है। इस मामले में पुलिस का ये भी कहना है कि राजीव ने खुद को सरेंडर करने के लिए अपनी पत्नी से 100 नंबर पर फोन करवाया था। पुलिस ने उसे पकड़ने के लिए बड़े स्तर पर सर्च अभियान चलाया था और माना जा रहा है कि इसी कारण उसने सरेंडर करने का फैसला लेते हुए पत्नी से पुलिस को फोन करवाया। फिलहाल पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।