रेप पीड़िता नाबालिग के साथ थाने में दुष्कर्म, 6 के खिलाफ मामला दर्ज, 29 पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

एडीजी कानपुर जोन ने डीआईजी झाँसी को 24 घंटे में जाँच पूरी कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।  

ललितपुर, डेस्क रिपोर्ट। उत्तर प्रदेश में तमाम सख्ती के बाद भी नाबलिग के साथ दुष्कर्म (rape with minor)की वारदात कम नहीं हो रहीं। यहाँ पुलिस थाने पहुंची दुष्कर्म पीड़िता के साथ थाने के SHO द्वारा दुष्कर्म की घटना सामने आने के बाद योगी सरकार ने बड़ा एक्शन लिया है। आरोपी इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया गया है, वो फरार है। इस गंभीर मामले में एडीजी जोन ने पाली थाने (UP Police) में पदस्थ सभी 29 पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। दुष्कर्म के आरोपियों में से एक को गिरफ्तार कर लिया गया है।

दरअसल इस पूरे मामले का खुलासा चाइल्ड लाइन की काउंसलिंग के बाद हुआ। चाइल्ड लाइन पहुंची 13 साल की नाबालिग ने जब वहां अपनी आपबीती सुनाई तो सबके रोंगटे खड़े हो गए। चाइल्ड लाइन ने बच्ची के माता पिता से संपर्क किया उसके बाद पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से शिकायत की गई।

ये भी पढ़ें – Indore News : बेटी को भगाकर ले गया प्रेमिका का भाई, युवक ने किया सुसाइड।

ये है पूरा मामला 

नाबालिग की मां के मुताबिक उसकी 13 साल की मासूम का चन्दन, राजभान, हरिशंकर और महेंद्र चौरसिया नामक युवकों ने 22 अप्रैल को अपहरण कर लिया था और वो उसे लेकर भोपाल चले गए जहाँ उसके साथ कई बार सामूहिक दुष्कर्म (gang rape with minor) किया। उसके बाद आरोपी 26 अप्रैल को बच्ची को पाली थाने के सामने छोड़कर भाग गए। बच्ची थाने पहुंची जहाँ से थाने के SHO इंस्पेक्टर ने उसे उसकी मौसी को सौंप दिया।

ये भी पढ़ें – Koffee With Karan को लेकर बड़ी घोषणा, यहाँ पढ़ें क्या कहा करण जौहर ने

मौसी ने बच्ची को अपने पास रख लिया लेकिन उसके माता पिता को नहीं बताया, अगले दिन बच्ची को बयान के लिए SHO ने थाने बुलाया, दिन भर थाने में रखा  और फिर शाम के समय एक कमरे में उसके साथ दुष्कर्म किया फिर मौसी के साथ घर भेज दिया।  उसे फिर थाने बुलाया गया पूछताछ की गई फिर 30 अप्रैल को चाइल्ड लाइन भेज दिया गया।

ये भी पढ़ें – अब हर शनिवार तिरुपति दर्शन के लिए जाइये, IRCTC दे रहा सुनहरा मौका

ये लिया पुलिस ने एक्शन 

एसपी निखिल पाठक ने मामले की जानकारी देते हुए मीडिया को बताया कि आरोपी SHO को निलंबित (SHO suspended) कर दिया गया है पाली थाने में पदस्थ सभी 29 पुलिसकर्मियों को लाइनहाजिर कर दिया गया है।  SHO सहित 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म, पोस्को एक्ट, SC/ST एक्ट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपियों की गिरफ़्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है।  उधर एडीजी कानपुरजोन ने डीआईजी झाँसी को 24 घंटे में जाँच पूरी कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।