गरीबी के हालातों से गुजरे Sundar Pichai आज करोड़ों लोगों के मार्गदर्शक हैं, जानते हैं इनकी सच्ची कहानी

सुंदर पिचाई आज अपना 50वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। आपको बता दें की वह दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में शुमार google के ceo हैं। सुंदर पिचाई के पास बचपन से ही आभाव रहा है उनके पास जरुरत का सामान तक नहीं होता था।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। सुंदर पिचाई आज अपना 50वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। आपको बता दें की वह दुनिया की सबसे बड़ी टेक कंपनियों में शुमार google के ceo हैं। सुंदर पिचाई के पास बचपन से ही आभाव रहा है उनके पास जरुरत का सामान तक नहीं होता था। google के ceo सुंदर पिचाई बहुत ही दिलचस्प और बेहतरीन इंसान हैं। उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत से इस उपलब्धि और ऊंचाई को पाया है। पिचाई की यहां तक पहुंचने का सफर इतना आसान नहीं था।

यह भी पढ़ें – Mandi bhav: 10 जून 2022 के Today’s Mandi Bhav के लिए पढ़े सबसे विश्वसनीय खबर

उनकी शुरुआत भले ही मामूली सी थी लेकिन उनका सफर बहुत ही प्रेरणादायक है। उनका पूरा नाम पिचाई सुंदर्राजन है, लेकिन उन्हें सुंदर पिचाई के नाम से जाना जाता है। तो आइए जानते हैं उनसे जुड़े कई दिलचस्प बातें:

पिचाई ने आईआईटी खड़गपुर से बीटेक की डिग्री हासिल की थी। उसके बाद वह अमेरिका चले गए। उन्होंने वहां स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से मास्टर ऑफ साइंस की डिग्री ली और पेंसिलवेनिया यूनिवर्सिटी के वार्डन स्कूल से एमबीए की डिग्री हासिल की है। सुंदर पिचाई को खाली समय में फुटबॉल खेलना और क्रिकेट खेलना बहुत ही पसंद है। साथ ही उन्हें अंग्रेजी क्लाससिक्स पढ़ने का शौक है। इसके अलावा वह टीवी प्रोग्राम F.r.i.e.n.d.s. को बड़े चाव से देखते हैं।

यह भी पढ़ें – Astrology Fact : हाथ से गिरे अगर यह 5 चीजें तो होता है बड़ा ही अपशकुन

एक बार जवाब दिल्ली यूनिवर्सिटी के SRCC कॉलेज में आए थे और छात्रों के साथ बातें कर रहे थे। तो उस दौरान उन्होंने कहा था कि वह फुटबॉल के बहुत बड़े फैन हैं। वह फुटबॉल को बहुत ज्यादा फॉलो करते हैं। वह बार्सिलोना टीम और लियोनेल मेसी के फैन है।

पिचाई सुंदर राजन का जन्म तमिलनाडु राज्य के चेन्नई में सन 1972 में हुआ था। उनके जीवन की शुरुआत एक मध्यमवर्गीय परिवार के रूप में हुई थी। जिनके पिता एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे। उन दिनों उनके पिता को परिवार के लिए एक स्कूटर खरीदने के लिए भी 3 साल की बचत करनी पड़ी थी। आज सुंदर पिचाई की संपत्ति 1310 मिलियन डॉलर है।

यह भी पढ़ें – राष्ट्रपति चुनाव की तारीख तय, इस दिन होगी राष्ट्रपति पद की वोटिंग

सन 2004 में सुंदर ने गूगल को ज्वाइन किया था। इसमें खास बात यह है कि जिस दिन उन्होंने गूगल जॉइन किया था। उसी दिन जीमेल की शुरुआत 1 अप्रैल 2004 को हुई थी। उसके बाद 2011 में मीडिया में यह चर्चा बहुत अच्छी थी कि सुंदर पिचाई ट्विटर पर जेसन गोल्डमैन की जगह ले सकते हैं। हालांकि उन्होंने गूगल के साथ बने रहना चुना। 2013 में सुंदर पिचाई ने मोबाइल प्लेटफार्म को चलाने के लिए एंड्राइड फाउंडर्स के पोर्टफोलियो एनडी रोगन की जगह ले ली।

यह भी पढ़ें – 1 जुलाई से क्या बैन हो जाएगा Amul? PMO को खत लिखकर मांगी राहत

सुंदर पिचाई के माइक्रोसॉफ्ट जाने की संभावना बनने लगी थी, तो गूगल ने उन्हें कहीं भी नहीं जाने को कहा और गूगल के सीईओ के रूप में नियुक्त कर दिया गया। पिचाई ने साल 2014 से गूगल के दिन प्रतिदिन कामों का ध्यान रखना शुरू किया। गूगल अल्फाबेट इन कॉरपोरेशन अपने पुराने गठन के बाद पिचाई ने गूगल के गूगल बिजनेस सेगमेंट को कंट्रोल किया। जिसमें गूगल search ADs, गूगल MAP, गूगल Play Store, YouTube और एंड्रॉयड शामिल है।