अनूठी शादी: साइकिल पर बारात लेकर पहुंचा दूल्हा, ये है खास वजह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना (Corona) का कहर बरकरार है और इस बीच शादियों (Marriage) का भी मौसम है। ऐसे में अलग अलग स्थानों पर शासन प्रशासन ने शादी को लेकर गााइडलाइन तय की है। शादियों में भीड़ न जुटाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने को कहा जा रहा है। लेकिन जहां अधिकांश स्थानों पर इस नियम की अवहेलना होती वहीं प्रतापगढ़ से आई खबर ने सभी को सुखद आश्चर्य में डाल दिया है। यहां सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए एक दूल्हा (Groom) साइकिल (cycle) से अपनी बारात लेकर गया।

बहुप्रतिष्ठित ऑस्कर अवॉर्ड्स की घोषणा, यहां देखिए विनर लिस्ट

मामला उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में बोझी गांव का है। यहां रहने वाले विनय कुमार की शादी थी और बारात 10 किलोमीटर दूर राजगढ़ गांव जानी थी। लोग धूमधाम से बारात निकालने की तैयारी में थे इसी बीच विनय कुमार ने घोषणा कर दी कि वो लड़की वालों के घर साइकिल से जाएंगे। इस बात से सभी हैरान रह गए और लोगों ने उन्हें समझाने के कोशिश भी की। लेकिन विनय अपनी बात पर अड़े रहे और आखिरकार उन्होने बारातियों को भी इस बात के लिए राजी कर दिया। इसके बाद सभी बाराती अलग अलग साइकिलों पर सवार होकर और मास्क लगाकर दुल्हन के दरवाजे पर पहुंचे। दुल्हन के घरवाले भी इस बारात का ये रूप देखकर आश्चर्य में पड़ गए। लेकिन फिर दूल्हे विनय से सबको बताया कि सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए उन्होने ये कदम उठाया है।

विनय कुमार एक पर्यावरण कार्यकर्ता है और उन्होने समाज को संदेश देने के लिए ये कदम उठाया। उनका कहना है कि एक तरफ कोरोना के कारण सामाजिक दूरी का पालन करना जरूरी है, वहीं इन दिनों हो रही ऑक्सीजन की कमी के बीच हम साइकिल चलाकर ऑक्सीजन बचाने और पर्यावरण को स्वच्छ रखने की राह भी दिखा सकते हैं। उन्होने कहा कि कार या बस में बारात ले जाते तो सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो पाता। वहीं साइकिल का उपयोग करने से अनावश्यक खर्च बचाने के साथ पर्यावरण संरक्षण भी होता है। विनय कुमार के इस कदम ने उन्हें इलाके का हीरो बना दिया है और सब उनकी बेहद तारीफ कर रहे हैं।