Eclipse 2021: जानें फिर कब लगेगा सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण, भारत पर क्या पड़ेगा असर

मई और जून तक में दो ग्रहण लग चुके हैं और अब नवंबर और दिसंबर में दो ग्रहण लगना बाकी है।

Eclipse 2021

धर्म, डेस्क रिपोर्ट। साल का पहला चंद्रग्रहण (Lunar eclipse 2021) 26 मई 2021 और सूर्यग्रहण 10 जून 2021 लग चुका है, हालांकि दोनों का भारत (India) में आंशिक असर देखने को मिला। एक तरफ जहां चंद्रग्रहण उत्तर-पूर्व राज्यों के अलावा पश्चिम बंगाल के कुछ इलाकों में दिखाई दिया वही सूर्यग्रहण अरुणाचल प्रदेश में नजर आया। दोनों ग्रहण की अवधि 5-5 घंटे की रही। वही दो ग्रहण यानि एक सूर्यग्रहण (Solar Eclipse 2021)और चंद्रग्रहण लगना अब भी बाकी है।

यह भी पढ़े.. Driving Licence: अब बिना RTO टेस्ट के बनेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें क्या है नए नियम

दरअसल, पंचाग और ज्योतिष के अनुसार, 2021 में पूरे 4 ग्रहण (eclipse 2021) लगेंगे।इसमें 2 सूर्यग्रहण और 2 चंद्रग्रहण शामिल है, मई और जून तक में दो ग्रहण लग चुके हैं और अब नवंबर और दिसंबर में दो ग्रहण लगना बाकी है। दूसरा चंद्रग्रहण 19 नवबंर 2021 और सूर्यग्रहण 4 दिसंबर 2021 को लगेगा।ज्योतिष गणना के मुताबिक, चंद्र ग्रहण सुबह 11:30 से प्रारंभ होगा और शाम के 5:33 पर समाप्त हो जाएगा

यह भी पढ़े.. 1 जुलाई से इस Bank के बदल जाएंगे नियम, जल्द निपटा लें अपने जरुरी काम

चंद्रग्रहण को भारत के कुछ स्थानों में आंशिक के साथ आस्ट्रेलिया, अमेरिका, उत्तरी यूरोप, प्रशांत महासागर समेत अन्य स्थानों पर यह पूर्ण रूप से देखा जा सकेगा।वही सूर्यग्रहण की भारत में लगने की संभावना न के बराबर रहेगी। ये पूर्ण रूप से अंटार्टिका, दक्षिण अफ्रीका, आस्ट्रेलिया, दक्षिण अमेरिका समेत अन्य स्थानों पर दिखाई देगा।

क्या होता है सूर्यग्रहण और चंद्रग्रहण

चंद्रमा के पृथ्वी व सूर्य के बीच आने पर सूर्य की रोशनी पृथ्वी तक नहीं पहुंच पाती, इस कारण सूर्य का बिम्ब ढ़क जाने को ही सूर्यग्रहण कहा जाता है। जबकि पृथ्वी के सूर्य व चंद्रमा के बीच में आने की स्थिति को चंद्रग्रहण कहा जाता है, ऐसी स्थिति में चंद्रमा लाल नजर आता है जिसे ब्लड मून कहते हैं।