Mahashivratri के दिन दो घंटे पहले जागे महाकाल बाबा, मंदिर में लगा भक्तों का तांता

Ujjain Mahashivratri : आज महाशिवरात्रि के दिन उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में महाकाल बाबा 2 घंटे पहले भक्तों को आशीष देने के लिए जागे। उनकी सबसे पहले भस्म आरती हुई फिर उन्होंने भक्तों को आशीर्वाद दिया।

Ujjain Mahashivratri : आज महाशिवरात्रि का त्योहार है। इस खास अवसर पर आज उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में सुबह से ही भक्तों का तांता देखने को मिल रहा हैं। आज के दिन बाबा महाकाल के दर्शन का खास महत्व माना गया है। ऐसे में बीते दिन से ही यहां श्रद्धालु बाबा के दर्शन करने पहुंच चुके हैं। खास बात ये है कि आज बाबा भक्तों को आशीष देने के लिए 2 घंटे पहले जागे। सबसे पहले उन्हें भस्म रमाई गई उसके बाद उन्होंने श्रद्धालुओं को आशीर्वाद दिया। जैसे ही बाबा के पट खुले हर जगह जय श्री महाकाल की गूंज सुनाई देने लगी।

Mahashivratri के दिन मंदिर में लगा भक्तों का तांता –

Mahashivratri Mahashivratri

लंबी कतारों में भक्त बाबा के दर्शन के लिए इंतजार कर रहे हैं। उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में पिछले 9 दिनों से धूम मची हुई है। क्योंकि नौ दिनों तक शिव नवरात्रि उज्जैन में मनाई जाती है। ऐसे में हर दिन बाबा का अलग अलग श्रृंगार किया जाता है। वहीं महाशिवरात्रि के दिन का सबसे ज्यादा महत्व होता है ऐसे में इस दिन सबसे ज्यादा भक्त बाबा के दर्शन के लिए उज्जैन पहुंचते हैं। आज सुबह 2:30 बजे मंदिर के पट खोले गए। उसके बाद भस्मआरती हुई। इसी के साथ भक्तों ने बाबा महाकाल के दिव्य दर्शनों का लाभ लिया।

महाकाल के पुजारी आशीष गुरु ने बताया कि सबसे पहले फलों के रस से बाबा महाकाल का स्नान किया गया। उसके बाद उन्हें भस्म रमाई गई। ये पूजा 2:30 बजे से शुरू हुई जो 4:30 बजे तक जारी रही। ऐसे में श्रद्धालुओं ने दर्शन का लाभ भी लिया। महाशिवरात्रि पर सतत 44 घंटे मंदिर के पट खुले रहते हैं। उन्होंने ये भी बताय कि दोपहर 12 बजे तहसील की ओर से शासकीय पूजा होगी। शाम 7:30 बजे से नित्य संध्या आरती होगी। 11 बजे से महानिशाकाल में महाकाल की महापूजा शुरू होगी।