Hanuman Chalisa : बेहद चमत्कारी है हनुमान चालीसा की ये 4 चौपाई, जानें महत्व

Hanuman Chalisa : भगवान हनुमान को प्रसन्न करना सबसे आसान और सरल होता है। दरअसल अगर रोज हनुमान चालीसा का पाठ किया जाए तो हनुमान भक्तों से प्रसन्न होते हैं और अपनी कृपा बरसाते हैं। इतना ही नहीं भक्तों को सभी संकटों, परेशानियों से दूर रखते हैं। आपको बता दें मंगलवार का दिन भगवान हनुमान जी का दिन माना जाता है। इस दिन भगवान हनुमान की पूजा और हनुमान चालीसा का पाठ करने से काफी ज्यादा लाभ होता है।

हनुमान चालीसा को बेहद प्रभावशाली और चमत्कारी माना गया है इस के जपने से ही भक्तों पर आया संकट दूर हो जाता है। आज हम आपको हनुमान चालीसा की ऐसी चार चौपाई का महत्व बताने जा रहे हैं जो बहुत चमत्कारी है। वैसे तो हनुमान चालीसा की हर चौपाई का अपना महत्व है। लेकिन ये चार चौपाई सबसे ज्यादा चमत्कारी है। इसके जाप सेहत, धन और सुख-समृद्धि प्राप्त होती है। चलिए जानते है उन चौपाई के बारे में –

रोग से दूर रहने के लिए –

चौपाई – नासै रोग हरे सब पीरा। जपत निरंतर हनुमत बलबीरा।।

इसका अर्थ है – हनुमान चालीसा की ये चौपाई का अर्थ है कि हमें किसी भी प्रकार का रोग इस चौपाई को निरंतर जपने से दूर हो जाता है।

परेशानियों से दूर रहने के लिए –

चौपाई – अष्ट सिद्धि नवनिधि के दाता। अस बर दीन जानकी माता।।

इसका अर्थ है – हनुमान जी अष्ट -सिद्धि नवनिधि के दाता हैं। उन्हें हर प्रकार की सिद्धियां प्राप्त हैं। इस चौपाई का जाप करने से जीवन में आने वाली मुश्किल कम होने लगती हैं।

विद्या और धन के लिए –

चौपाई – विद्यावान गुनी अति चातुर। रामकाज करिबे को आतुर

इसका अर्थ है – हनुमान चालीसा की ये चौपाई पढ़ने से विद्या और धन से जुड़ी हर समस्या का समाधान होता है। रोजाना इन चौपाइयों का पाठ करना चाहिए।

शुत्र से बचाव के लिए –

चौपाई – भीम रूप धरि असुर संहारे। रामचंद्रजी के काज संवारे

इसका अर्थ है – इस चौपाई का पाठ करने से आपका बल इतना ज्यादा हो जाएगा कि आपके सामने आपके दुश्मन ठहर ही नहीं पाएंगे।

डिस्क्लेमर – इस लेख में दी गई सूचनाएं सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। एमपी ब्रेकिंग इनकी पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह लें।