IPL 2024: हार्दिक पांड्या की बढ़ी मुश्किलें, BCCI ने ठोका जुर्माना, अगले सीजन का पहला मैच नहीं खेल सकेंगे

IPL 2024 का 67वां मुकाबला मुंबई इंडियंस और लखनऊ सुपरजायंट्स के बीच वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया, जहां 18 रनों से MI को शिकस्त झेलनी पड़ी।

Hardik Pandya

IPL 2024 MI VS LSG: IPL 2024 में हार्दिक पांड्या का प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है। उनकी अगुवाई वाली मुंबई इंडियंस पहले ही इस सीजन से बाहर हो गई थी। वहीं, टीम ने IPL  के 17वें सीजन के लीग का आखिरी मुकाबला भी हार गया। लखनऊ सुपरजायंट्स के खिलाफ खेले गए लीग के आखिरी मुकाबले में मुंबई इंडियंस को 18 रनों से शिकस्त झेलनी पड़ी है। इसके साथ ही कप्तान हार्दिक पांड्या के खिलाफ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की तरफ से कड़ा एक्शन लिया गया है। आइए जानते हैं विस्तार से…

हार्दिक पांड्या पर लिया गया कड़ा एक्शन

मुंबई इंडियंस के कप्तान हार्दिक पांड्या लीग के आखिरी मुकाबले में शिकस्त झेलने के साथ जुर्माने का भी शिकार हो गए हैं। दरअसल, लखनऊ सुपरजायंट्स के मुकाबले में मुंबई इंडिंयस की टीम स्लो ओवर स्पीड का शिकार पाया गया, जिसके कारण BCCI ने उन पर भारी भरकम जुर्माना लगाया है। उनके साथ ही टीम पर भी जुर्माना लगाया गया है। हार्दिक पांड्या इस सीजन में तीसरी बार स्लो ओवर रेट के दोषी पाए गए। उन पर BCCI की तरफ से 30 लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया है। इसके साथ ही एक मैच का बैन भी लगाया गया है।

IPL 2025 का पहला मैच नहीं खेलेंगे हार्दिक

दरअसल, IPL की आचार संहिता के मुताबिक स्लो ओवर स्पीड का शिकार होने पर कप्तान पर 30 लाख का जुर्माने के साथ ही एक मैच का बैन लगाया जाता है। फिलहाल, इस सीजन में MI के सभी मैच खत्म हो चुके हैं। लिहाजा, कप्तान हार्दिक पांड्या अब अगले सीजन का पहला मैच नहीं खेल सकेंगें। इसके अलावा इम्पैक्ट प्लेयर सहित प्लेइंग- 11 पर मैच फीस का 50 फीसदी और 12-12 लाख रूपए जो भी कम हो जुर्माना लगाया जाता है।

ये रहा मैच का हाल

IPL 2024 का 67वां मुकाबला मुंबई इंडियंस और लखनऊ सुपरजायंट्स के बीच वानखेड़े स्टेडियम में खेला गया। इस दौरान हार्दिक पांड्या ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया था। आपको बता दें लखनऊ सुपरजायंट्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट पर 214 रन बनाया। वहीं, 215 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई इंडियंस ने 6 विकेट 20 ओवर में 196 रन ही बना पाई और 18 रनों से सीजन का आखिरी मुकाबला हार गई।


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है–खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालोमैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।