कॉमनवेल्थ में हुआ बड़ा हादसा, ट्रैक छोड़ दर्शकों में घुसे साइक्लिस्ट, देखे वीडियो

यह हादसा पुरुषों की 15 किमी स्क्रैच साइक्लिंग इवेंट के दौरान हुआ।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। इंग्लैंड के बर्मिंघम में खेले जा रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में दुनियाभर के एथलिट्स पदक के लिए अपनी जान लगा रहे है। इस दौरान दर्शक भी इस एथलेटिक्स के बड़े आयोजन को चीयर करने के लिए स्टेडियम पहुंच रहे है। अभी तक ऑस्ट्रेलिया ने खेलों में दबदबा बनाया हुआ है, जहां उनके एथलीट्स 20 से ज्यादा गोल्ड मेडल के साथ पदकों का अर्धशतक लगा चुके है। भारत का भी शुरुआती तीन दिनों में प्रदर्शन मनमुताबिक रहा है, जहां उसने 3 गोल्ड सहित कुल 6 मेडल वेटलिफ्टिंग से अपने नाम किए है।

इवेंट्स के दौरान एथलीट्स के साथ-साथ यहां दर्शकों में भी भरपूर उत्साह है लेकिन गेम्स के तीसरे यहां ये उत्साह थोड़ा सा निराशा में उस समय बदल गया जब साइकिलिंग के दौरान खिलाड़ियों के साथ दर्शक भी घायल हो गए। यह हादसा पुरुषों की 15 किमी स्क्रैच साइक्लिंग इवेंट के दौरान हुआ।

दर्शक दीर्घा में घुसे साइकिलिस्ट

इंग्लैंड के मैट वॉल्स और कनाडा के डेरेक जी बैलेंस बिगड़ने के कारण ट्रैक छोड़ दर्शक दीर्घा में घुस गए। इस हादसे में 24 वर्षीय वॉल्स को गंभीर चोट आई, जबकि आइल ऑफ मैन के साइकिल चालक मैथ्यू बोस्टॉक भी इस घटना में घायल हो गए। इस दौरान वॉल्स, डेरेक जी और बोस्टॉक तीनों को ही हॉस्पिटल ले जाना पड़ा।

घटना पर खेलों की तरफ से प्रवक्ता ने कहा, “ली वैली वेलोपार्क में ट्रैक और पैरा ट्रैक साइक्लिंग के सुबह के सत्र में एक दुर्घटना के बाद मैदान पर ही मेडिकल टीम द्वारा तीन साइकिल चालकों और दो दर्शकों का इलाज किया गया है। बाद में तीन साइकिल चालकों को अस्पताल ले जाया गया।”

उन्होंने आगे कहा, “दोनों दर्शकों को अस्पताल में इलाज की आवश्यकता नहीं थी। हम इस घटना में शामिल साइकिल चालकों और दर्शकों को अपनी शुभकामनाएं देना चाहते हैं और आपतकाल मदद के लिए चिकित्सा टीम को धन्यवाद देना चाहते हैं।”

आपको बता दे, तीनों खिलाड़ियों को अस्पताल से छुट्ठी मिल गई है। ब्रिटेन में साइक्लिंग की गवर्निंग ने ट्वीट कर बताया, “मैट होश में हैं और बात कर रहें हैं। उन्हें अस्पताल में चिकित्सकीय टीम पूरी नजर रखी हुई है।” टीम इंग्लैंड ने दावा किया कि ओलंपिक चैंपियन को उनके माथे पर खरोंच और चोट के निशान हैं जिसके चलते उन्हें टांके लगे, लेकिन कोई बड़ी चोट नहीं है।