मोहम्मद शमी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियों पर सख्त फेसबुक की यह कार्रवाई

मोहम्मद शमी एक प्रतिबद्द विश्वस्तरीय गेंदबाज है। बस कल वह रंग में नहीं दिखे जो किसी भी खिलाड़ी के साथ हो सकता है। मैं शमी और टीम इंडिया के साथ खड़ा हूं।"

खेल जगत, डेस्क रिपोर्ट। वर्ल्ड कप T20 में पाकिस्तान से मिली करारी हार के बाद भारतीय गेंदबाज मोहम्मद शमी को लगातार निशाना बनाया जा रहा है। उनके खिलाफ आपत्तिजनक शब्दों का भी इस्तेमाल हो रहा है। इस पर फेसबुक ने सख्त कार्रवाई कर ऐसी सभी टिप्पणियों को डिलीट कर दिया है।

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी के खिलाफ फेसबुक पर चल रहे दुष्प्रचार पर फेसबुक ने सख्त रवैया अपनाया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक पर मोहम्मद शमी के खिलाफ की गई सभी ऐसी टिप्पणियां डिलीट कर दी गई है जो आपत्तिजनक है। फेसबुक ने कहा है कि जब भी इस तरह के उत्पीड़न की बातें सामने आती हैं, कंपनी इसे बेहद गंभीरता से लेती है और सख्त कार्रवाई करती है। मोहम्मद शमी के मामले में भी यही किया गया है।

मोहम्मद शमी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियों पर सख्त फेसबुक की यह कार्रवाईमोहम्मद शमी के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणियों पर सख्त फेसबुक की यह कार्रवाई

दरअसल 10 विकेट से हारी भारतीय टीम के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने 3.5 ओवर में 43 रन दिए थे और वह सबसे ज्यादा महंगे बॉलर साबित हुए थे। फेसबुक पर उनके प्रदर्शन को धर्म से जोड़ दिया और उनके खिलाफ घृणास्पद टिप्पणियां की गयी। हालांकि सचिन तेंदुलकर जैसे क्रिकेटर मोहम्मद शमी के समर्थन में सामने आए और सचिन ने ट्वीट करके लिखा “जब हम टीम इंडिया का समर्थन करते हैं तो हम टीम इंडिया का प्रतिनिधित्व करने वाले प्रत्येक व्यक्ति का समर्थन करते हैं। मोहम्मद शमी एक प्रतिबद्द विश्वस्तरीय गेंदबाज है। बस कल वह रंग में नहीं दिखे जो किसी भी खिलाड़ी के साथ हो सकता है। मैं शमी और टीम इंडिया के साथ खड़ा हूं।” वीरेंद्र सहवाग ने भी ट्वीट कर लिखा “मोहम्मद शमी पर ऑनलाइन हमला चौंकाने वाला है और हम उनके साथ खड़े हैं। वह एक चैंपियन है और जो कोई भी भारत की टोपी पहनता है उसके दिल में किसी ऑनलाइन भीड़ से ज्यादा भारत है। मैं आपके साथ हूं शमी। अगले मैच में दिखा दो जलवा।”

VIDEO: मप्र उपचुनाव के बीच उमा भारती का बड़ा बयान- 2024 में लडूंगी चुनाव

वही फेसबुक के प्रवक्ता ने कहा कि हमने भारतीय क्रिकेटर पर दुर्व्यवहार का निर्देश देने वाली टिप्पणियों को हटाने के लिए तुरंत उपाय शुरू कर दिए और हम उन लोगों के खिलाफ कार्रवाई करना जारी रखेंगे जो हमारे सामुदायिक मानकों का उल्लंघन करते हैं।