नहीं रहे ‘फ्लाईंग सिख’ Milkha Singh, चंडीगढ़ PGI में ली अंतिम सांस, पीएम मोदी ने जताया शोक

24 मई को उन्हें फोर्टिस अस्पताल में स्वास्थ्य के प्रति सजगता दिखाते हुए एडमिट किया गया था।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। फ्लाइंग सिंह (fling sikh) के नाम से मशहूर देश के नायाब एथलीट मिल्खा सिंह (milkha singh) कोरोना (corona) से जंग हार गए। कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने उनसे बातचीत कर उनके हाल चाल जाने थे। और कहा था कि उम्मीद करते हैं कि मिल्खा सिंह जल्द ही स्वस्थ होंगे और टोक्यो ओलंपिक (Tokyo olympic)  में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को सही मार्गदर्शन देने के लिए वापस आएंगे। लेकिन अफसोस कोरोना ने देश के कई अन्य रत्नों के साथ आज इस महान खिलाड़ी को भी शिकस्त दे दी।

मिल्खा सिंह दो हफ्ते पहले ही कोरोना वायरस का शिकार हुए थे और गुरुवार को उन्हें चंडीगढ़ के पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन (Post Graduate Institute of Medical Education) और रिसर्च के आईसीयू वार्ड में लाया गया था। 24 मई को उन्हें फोर्टिस अस्पताल में स्वास्थ्य के प्रति सजगता दिखाते हुए एडमिट किया गया था।

Read More: मुरैना: सेवानिवृत होने के बाद अपने ही विभाग के काटते रहे चक्कर, हुई मौत, बेटी की शादी के सपने रह गए अधूरे

उनके बेटे जीव ने बताया था कि मिल्खा सिंह कोविड से लड़ रहे हैं और उन्होंने सभी की दुआओं के लिए शुक्रिया भी कहा था। मिल्खा सिंह की पत्नी भी कोविड का शिकार हो गयी हैं और उनकी कोरोना से जंग जारी है।

मिल्खा सिंह ने खेल जगत में भारत को कई गर्व के पल दिए हैं। उन्हें उनके जबरदस्त अंदाज़ के लिए ‘फ्लाईंग सिंह ‘ का टाइटल भी दिया गया था। उनके निधन पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई दिग्गज नेता अभिनेता सहित अन्य लोगों ने शोक व्यक्त किया है। पीएम मोदी ने ट्वीट में कहा कि अभी कुछ दिन पहले ही मेरी मिल्खा सिंह जी से बात हुई थी। मुझे नहीं पता था कि यह हमारी आखिरी बातचीत होगी। कई नवोदित एथलीट उनकी जीवन यात्रा से ताकत हासिल करेंगे। उनके परिवार और दुनिया भर में कई प्रशंसकों के प्रति मेरी संवेदनाएं।