WhatsApp पर मिलेगा नया फीचर, यूजर्स एडिट कर पाएंगे Caption, ऐसे करेगा काम, यहाँ जानें

Manisha Kumari Pandey
Published on -

WhatsApp New Feature: मेटा के स्वामित्व के अंतर्गत आने वाले सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म व्हाट्सऐप पर नया फीचर आने वाला है। जल्द ही यूजर्स को “Edit Caption” की सुविधा मिलेगी। इस फीचर के जरिए यूजर्स GIFs, इमेज और वीडियो के साथ भेजे गए कैप्शन में सुधार कर पाएंगे। हाल ही में ऐप पर मैसेज एडिटिंग की सुविधा शुरू की गई थी।

एडिट कैप्शन फीचर के बारे में

एडिट कैप्शन फीचर एंड्रॉयड और iOS दोनों ही डिवाइसेस के लिए उपलब्ध होगा। WABetaInfo के मुताबिक यूजर्स को मैसेज भेजने के 15 मिनट तक कैप्शन में बदलाव करने की अनुमति होगी। इससे मैसेज में हुए गलतियों को सुधारने का मौका मिलेगा। साथ ही चैटिंग प्रक्रिया और भी बेहतर होगी। हालांकि यह सुविधा केवल उस डिवाइस तक सीमित रहेगी जिससे मैसेज भेजा गया हो। मतलब यदि कोई यूजर अपने फोन से कैप्शन के साथ मीडिया शेयर करता है तो वह 15 मिनट तक अपने फोन के जरिए ही सुधार कर सकता है न की किसी अन्य डिवाइस के जरिए। एप्पल स्टोर और प्लेस्टोर से ऐप को अपडेट कर इस सुविधा का लाभ यूजर्स उठा पाएंगे। उम्मीद है कि जल्द ही एडिट कैप्शन फीचर सभी व्हाट्सऐप यूजर्स के लिए उपलब्ध होगा।

WhatsApp पर मिलेगा नया फीचर, यूजर्स एडिट कर पाएंगे Caption, ऐसे करेगा काम, यहाँ जानें

कंपनी ने लॉन्च किया नया फीचर

मेटा के सीईओ मार्क ज़ुकरबर्ग ने हाल ही में नया एचडी फोटो फीचर शुरू किया है। इसके जरिए यूजर्स हाई-क्वालिटी के फ़ोटोज़ भेज पाएंगे। नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके आप कैप्शन में बदलाव कर सकते हैं।

ऐसे एक्टिव करें नया फीचर

  • सबसे पहले व्हाट्सऐप के लेटेस्ट वर्ज़न को इंस्टॉल करें।
  • चैट खोलें और भेजे गए मैसेज पर थोड़ी देर टैब करें। अब “Edit Caption” पर क्लिक करें।
  • अब मैसेज में 15 मिनट के भीतर अपनी के इच्छा अनुसार बदलाव करें।
  • कन्फर्म और सेव करें।

 

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News