हिलता हुआ ऑटो बना गैंगरेप की वजह, 4 आरोपी पहुंचे जेल

बैतूल ।। हेमंत पवार ।।

बैतूल के सोनाघाटी में पिछले दिनों 8 जुलाई को हुए गैंग रेप के तीन आरोपियों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया है। इस गैंगरेप का मुख्य आरोपी अभी भी फरार है। जबकि पुलिस ने एक अन्य आरोपी जिसे युवती का प्रेमी बताया जा रहा है पहले ही गिरफ़्तार हो चुका है। पुलिस ने घटना में लिप्त आरोपी प्रभुदयाल को सोमवार गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है जबकि गैंग रेप को अंजाम देने वाले सचिन शर्मा,सलीम शेख और राकेश को गिरफ्तार कर अदालत के सामने पेश किया जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। गिरफतार आरोपियों ने इक़बाले जुर्म कर लिया है। 

आरोपियों और पुलिस ने इस गैंग रेप की वारदात का जो ब्यौरा दिया है।उसने महिला के साथी प्रभुदयाल को कठघरे में खड़ा कर दिया है। पकड़े गए आरोपी राकेश के मुताबिक जब वे हाइवे पर साथियो के साथ टहल रहे थे तो एक ऑटो उन्हें हिलती हुई दिखी तो उन्हें अजीब लगा जब उन्होंने पास जाकर देखा तो महिला और उसका साथी प्रभुदयाल बिना कपड़ों के आपत्तिजनक हालत में थे। जिस पर उनके फरार साथी और उन्होंने प्रभुदयाल को मारपीट कर भगा दिया और पीड़िता को जंगल मे ले गए जहां रज्जु ने उसके साथ रेप किया। आरोपी के मुताबिक वे लोग वारदात की जगह बाद में पहुचे थे। 

इधर एसडीओपी आनंद राय ने बताया कि महिला के साथी प्रभुदयाल को भी आरोपी बनाया गया है जो महिला को बहला फुसलाकर ले गया था। उसने वहां मौके पर महिला को अपनी हवस का शिकार बनाया। इसी दौरान मौके पर पहुँचे चारो आरोपी जो कि आवारा किस्म के है वहा पहुँचे और महिला का अपहरण कर जंगल मे ले गए जहां उसके साथ सामूहिक दुराचार किया गया।