भोपाल पुलिस से नाराज शिवराज

भोपाल| चार महीने पहले हबीबगंज इलाके में पीएससी की तैयारी कर रही युवती के साथ हुए सामूहिक दुष्कर्म मामले के बाद एक बार फिर राजधानी की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े होने लगे हैं| एक के बाद एक बड़ी वारदातों ने भोपाल को दहला दिया है| छेड़छाड़ की घटनाओं ने एक बार फिर पुलिस के उन दावों और वादों की पोल खोल दी है, जो हबीबगंज गैंगरेप की घटना के बाद किये गए थे और ढेरों अभियान मुहीम शुरू की गई थी| सड़क से लेकर सदन तक महिला सुरक्षा का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है, और सरकार घिरी गई है| भोपाल पुलिस की इस लचर सुरक्षा व्यवस्था पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी आग बबूला हुए हैं| सीएम ने आरती आत्महत्या मामले पर नाराजगी दिखाते हुए आईजी जयदीप प्रसाद को कड़ी फटकार लगाई है और जल्द ही राजधानी में अपराधों पर लगाम लगाने के निर्देश दिए हैं| 

दरअसल, भोपाल में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। एक के बाद एक बड़ी घटनाओं से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं| मिसरोद क्षेत्र में 35 साल के युवक ने सात साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। एम्स की डॉक्टर के साथ छेड़खानी की घटनाएं हो रही हैं। गौतम नगर इलाके में छात्रा आरती ने दानिश नाम के युवक द्वारा छेड़छाड़ से परेशान होकर आत्महत्या कर ली| लोगों में इस घटना के बाद आक्रोश है, कई सामाजिक संगठन और परिजनों ने सोमवार और मंगलवार को प्रदर्शन भी किया है| मंगलवार को एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने थाने का घेराव कर दिया। इस दौरान मृतका की सैकड़ो साथी छात्राएं भी साथ थीं। वहीं रात में कैंडल मार्च निकाला गया|

इधर एएसपी जोन 3 राजेश सिंह भदौरिया के अनुसार मामले की ओर भी बहतर विवेचना के लिए सीएसपी ग्लैडविन कॉर के नेत्रित्व में विशेष टीम का गठन किया गया है। विवेचना में आए तथ्यों को चालान में संग्लन किया गया जाएगा। जिससे की आरोपी को कड़ी सजा दिलाने में मदद मिल सके। वहीं पुलिस की कार्रवाई से असंतुष्ट करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने भी मंगलवार को धाराओं को बढ़ाने की मांग को लेकर सीएम हाउस के बाहर प्रदर्शन किया। गौरतलब है कि आरोपी की गिरफ्तारी के बाद उसे थाने में आम अपराधियों की तरह नहीं रखा गया। आरोपी दानिश को थाने में बैठने के लिए कुर्सी दी गई थी। मृतका के परिजनों के आरोप हैं कि दानिश को थाने में वीआईपी ट्रीटमेंट दिया गया था। जिससे जेपी नगर में रहने वाले मृतका के परिजनों और पड़ोसियों में आक्रोश पैदा हुआ और लोगों ने टीआई मु तार कुरैशी को हटाने की मांग कर डाली। 


- यह है मामला 

19 वर्षीय आरती जेपी नगर में रहती थी और गीतांजलि कालेज में बीकॉम सेकंड ईयर की छात्रा थी। शनिवार को कालेज से लौटने के बाद उसने घर में फ ांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। थोड़ी देर बाद जब उसका भाई आया तो उसने घर के दरवाजे को अंदर से बंद पाया। मां घर पहुंची तो उन्होंने भी आवाज दी, लेकिन दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोस से झांककर देखा। भीतर छात्रा फांसी पर लटकी हुई थी। पुलिस ने जब परिजनों के बयान लिए तो छात्रा के साथ छेडख़ानी की बात सामने आई। दानिश नाम का युवक छात्रा को लंबे समय से परेशान कर रहा था। पुलिस ने इस मामले में दानिश के खिलाफ  आत्महत्या के लिए उकसाने का प्रकरण दर्ज कर उसे गिरफ्तार र कर लिया है।

"To get the latest news update download tha app"