कांग्रेस विधायक ने अफसरों पर लगाए अफीम किसानों से वसूली के आरोप

मंदसौर।

एमपी में अफसरों और कांग्रेस विधायकों के बीच तकरार जारी है।आए दिन विधायकों और अफसरों के बीच विवाद की स्थिति पनप रही है। ताजा मामला मंदसौर से सामने आया है, जहां कांग्रेस विधायक और अफसरों के बीच विवाद हो गया।इस दौरान कांग्रेस विधायक ने अफसरों पर किसानों से अफीम की अवैध वसूली के आरोप लगाए है।वही भाजपा सांसद को भी कांग्रेसियों ने जमकर घेरा और गांव गांव जाकर लापता के पोस्टर लगाने की बात कही।

दरअसल, मंगलवार को मंदसौर जनपद पंचायत उपाध्यक्ष परशुराम सिसौदिया सहित अन्य नेताओं ने जिला अफीम कार्यालय के बाहर धरना देकर घेराव किया गया था। इस दौरान कांग्रेस नेता और अधिकारियों के बीच विवाद हो गया और कांग्रेस नेता धरने पर बैठ गए। विधायक हरदीपसिंह डंग व परशुराम सिसौदिया ने सहायक नारकोटिक्स आयुक्त रजवानिया से कहा कि आपके अधिकारियों से कहो कि किसानों से रुपए लेना बंद करें तो रजवानिया ने कह दिया कि किसान पैसा देता ही क्यों है, इस बात पर विधायक डंग ने आपत्ति लेकर रजवानिया को खरी-खोटी सुनाई व कार्यालय के बाहर ही जमीन पर बैठकर विरोध करने लगे। लगभग 20 मिनट तक जमकर नारेबाजी हुई। बाद में जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडिय़ा ने हस्तक्षेप किया और रजवानिया ने सार्वजनिक रूप से सभी से माफी मांग कर रिश्वत मांगने वाले अधिकारियों को चिन्हित कर कार्रवाई की बात कही।

सांसद पर फूटा गुस्सा

इसके बाद कांग्रेस नेताओं का गुस्सा भाजपा सांसद सुधीर गुप्ता पर फूटा।उन्होंने कहा कि यहां से भाजपा चुनाव जीती है, उनका भी धर्म है कि किसानों की बात रखे लेकिन हमारे सांसद सुधीर गुप्ता लंबे समय से लापता हैं। अब हम उनके पोस्टर छपाकर गांव-गांव में लगवाएंगे, जो कार्यकर्ता सांसद के दिखने की सूचना देगा, उसे इनाम दिया जाएगा।

"To get the latest news update download the app"