Breaking News
कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर |

किसान नेता पर भाजपा विधायक के बिगड़े बोल से मचा बवाल!

खंडवा| सुशील विधानी| बीते दिनों मंदसौर में हुए किसान आंदोलन से मप्र की भाजपा सरकार अभी तक उबर नहीं पाई है। नवंबर, दिसंबर में मप्र में विधानसभा चुनाव होना है। एक के बाद एक स्कीमें देकर सरकार किसानों को लुभाने और जख्मों पर मरहम लगाकर अपने पक्ष में करने में जुटी है। लाख प्रयास हो रहे हैं, लेकिन पार्टी के कुछ नेताओं के कारण किसानों में नाराजगी थमने का नाम नहीं ले रही हैं। मान्धाता विधानसभा सीट से सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के विधायक लोकेंद्र सिंह तोमर के एक किसान नेता के संबंध में ऑन रिकॉर्ड दिए गए विवादित बयान ने किसानों के जख्मों पर तीखी मिर्च और नमक छिड़कने का काम किया है। राजनीतिकारों के मुताबिक, भाजपा विधायक तोमर के बयान ने मप्र भाजपा के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी कर दी है। बीते दिनों विधानसभा क्षेत्र के ही एक स्थान पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करने पहुंचे तोमर ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए किसान नेता जीवन शर्मा के संबंध में कह दिया- 'उसके मां-बाप चॉकलेट नहीं खाते तो वो कहां से आ जाता।' जीवन शर्मा किल्लौद क्षेत्र में लंबे समय से किसान हित में नहर लाने की मांग करने वाले किसान नेता हैं। इसलिए जीवन शर्मा शुरू से ही कुछ नेताओं के हाशिए पर चल रहे हैं। जानकारों के मुताबिक, तोमर के इस विवादित बोल से पूरे मान्धाता विधानसभा क्षेत्र के किसान नाराज और स्तब्ध हैं। भरोसेमंद सूत्र बताते हैं कि तोमर के इस बयान के बाद क्षेत्र के नाराज किसान विधायक के खिलाफ आंदोलित हो सकते हैं। तोमर की शिकायत लेकर क्षेत्र के किसान प्रशासनिक अधिकारियों से मिलने खंडवा आ रहे हैं। इस मामले में भाजपा एमएलए तोमर से बात करने की हमारे द्वारा कई बार कोशिशें की गईं लेकिन संपर्क नहीं हुआ। 


सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा विवादित बयान वाला वीडियो-

तोमर का उक्त विवादित बयान वाला वीडियो सोशल मीडिया के जरिए वॉट्सएप ग्रुपों में जमकर वायरल हो रहा है। तोमर के बयान को लेकर भाजपा की राजनीति में भूचाल आने की आशंकाएं प्रबल हैं। इधर, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने खबर एक्सपोज से खंडवा एयरपोर्ट पर विशेष बातचीत में कहा कि- मैं, तोमर के बयान को दिखवाता हूं। उन्होंने (तोमर ने) क्या कहा है बात की जाएगी। तोमर के इस बयान से किसानों में सत्ताधारी पार्टी के विरुद्ध नाराजगी सुनने में आ रही है। 


जानिए क्या कहा था विधायक तोमर ने किसान नेता जीवन शर्मा के बारे में 

'चाकलेट, बोले बजट चॉकलेट दे दी। जीवन शर्मा को कौन सिखाए, मैं जवाब देना चाहता नहीं। कि तेरे मां-बाप ने भी तेरे को भी चॉकलेट देना सिखाए कि नहीं सिखाई? वो चॉकलेट नहीं खाते तो तू कहां से आ जाता। बड़ी तकलीफ है।' जानकारों के मुताबिक, बीते दिनों मप्र शासन के किसान बजट के संबंध में किसान नेता जीवन शर्मा ने अपनी बात रखी थी। शर्मा ने सरकार के बजट को चाकलेट जैसा बताया था। राजनीतिक जानकारों द्वारा समझा जाता है कि तोमर किसान नेता शर्मा के इसी बयान से बौखलाए हुए थे। 


माफी मांगे तोमर, वरना शुरू कर देंगे आंदोलन 

किसान बचाओ संघर्ष समिति के नेता जीवन शर्मा ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि- मांधाता विधायक लोकेंद्र सिंह तोमर द्वारा एक सभा से सार्वजनिक रूप से मेरे माता-पिता को लेकर टिप्पणी और अपशब्द कहकर अपमानित किया गया एवं उपहास उड़ाया गया। यह विधायक की घबराहट एवं बौखलाहट है। अगर विधायक तोमर 2 दिन के भीतर सार्वजनिक रूप से मेरे माता-पिता से माफी नहीं मांगेंगे तो हम आंदोलन करेंगे। कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपेंगे। प्रेसवार्ता कर मीडिया के समक्ष अपनी बात रखेंगे। किसान नेता जीवन शर्मा ने कहा कि अगर भाजपा अपने आपको एक संगठित पार्टी मानती है तो विधायक पर उचित कार्रवाई करे। 


खंडवा आ रहे हैं किसान 

मेरे और माता-पिता के संबंध में विधायक तोमर द्वारा दिए बयान के संबंध में खंडवा पहुंच रहे हैं। ये किसानों के आत्मसम्मान की लड़ाई है। 

- जीवन शर्मा, किसान नेता, किल्लौद (मान्धाता विधानसभा क्षेत्र)


दिखवाता हूं- 

तोमर के बयान को दिखवाता हूं। उन्होंने (तोमर ने) क्या कहा है बात की जाएगी।

- नंदकुमार सिंह चौहान, सांसद भाजपा प्रदेशाध्यक्ष,  खंडवा हवाई पट्टी पर  बातचीत के दौरान बताया गया 


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...