रामबाई बोली- एमपी में भी कर्नाटक-गोवा जैसे हालात, अभी मंत्री नही बनाया तो क्या फायदा

भोपाल।

बुधवार को विधायक दल की बैठक में एक बार फिर हमेशा अपने बयानों से सुर्खियों में रहने वाली बसपा विधायक रामबाई के सख्त तेवर देखने को मिले। उन्होंने मंत्री ना बनाए जाने पर फिर नाराजगी दिखाई। रामबाई का कहना था कि कर्नाटक व गोवा की तरह प्रदेश सरकार को भी खतरा है। ऐसी स्थिति में भी हमें कुछ नहीं मिला तो क्या फायदा।उन्होने कहा कि यदि उनको अभी मंत्री नहीं बनाया गया तो फिर कब बनाया जाएगा। रामबाई के इस बयान ने एक बार फिर सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर दी है। वही बसपा विधायक संजीव कुशवाह का बैठक में शामिल ना होना चर्चा का विषय बना हुआ है। खबर है कि दोनों विधायक सरकार से नाराज चल रहे है।

दरअसल, मीडिया से चर्चा के दौरान बसपा विधायक रामबाई ने सरकार से काफी नाराज दिखी। उन्होंने  मीडिया से कहा कि कर्नाटक और गोवा की तरह मध्यप्रदेश सरकार को भी खतरा है। यदि इस स्थिति में मुझे मंत्री नहीं बनाया तो क्या फायदा।   मेरे परिवार वालों पर झूठे मुकदमे लगाए गए हैं।मेरा समर्थन इसलिए है, क्योंकि कमलनाथ को मुख्यमंत्री रहना चाहिए। रामबाई ने बिजली की समस्या भी उठाई। 

रामबाई यही नही रुकी उन्होंने आगे कहा कि इससे उनको लोगों की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है साथ ही सरकार की बदनामी भी हो रही है। इस पर ध्यान देना जरूरी है। रामबाई ने कहा कि विकास के मामले में उनके क्षेत्रों को प्राथमिकता मिलनी चाहिए।उनकी मंत्री नहीं सुनते। 

बता दे कि विधानसभा चुनाव के बाद से ही रामबाई मंत्री ना बनाए जाने से नाराज चल रही है। इसको लेकर वे कई बार सरकार को भी चेतावनी दे चुकी है। हालांकि उनको सरकार की तरफ से आश्वसन मिला है कि उन्हें जल्द मंत्री बनाया जाएगा। लेकिन लगातार देरी के चलते बार बार विधायकों की सरकार के प्रति नाराजगी जगजाहिर हो रही है।

"To get the latest news update download the app"