Breaking News
कैसे पूरी होगी शिवराज की यह घोषणा | कांग्रेस की उम्मीदों पर फिर पानी, बसपा ने जारी की प्रत्याशियों की पहली सूची | डंपर काण्ड: CM के खिलाफ याचिका खारिज, SC ने कहा-'चुनाव लड़ना है तो मैदान में लड़ें, कोर्ट में नहीं' | बीजेपी विधायक का आरोप, सवर्ण आंदोलन के लिए हो रही विदेशी फंडिंग | व्यापमं का जिन्न फिर बाहर: दिग्विजय ने शिवराज, उमा समेत 18 के खिलाफ किया परिवाद दायर | चुनाव लड़ने का इंतजार कर रहे बीजेपी के 70 विधायकों में मचा हड़कंप! | अधिकारी की कलेक्टर को नसीहत, 'आपकी कार्यशैली पर लज्जा आती है, तबादला करा लें' | दागियों का कटेगा टिकट, साफ-सुथरी छवि के नेताओं को चुनाव में उतारेगी भाजपा | फ्लॉप रहा कांग्रेस का 'घर वापसी' अभियान, सिर्फ कार्यकर्ता लौटे, नेताओं ने बनाई दूरी | शिवराज कैबिनेट की बैठक ख़त्म, इन प्रस्तावों पर लगी मुहर |

दुल्हे की दाढ़ी पर मचा बवाल, लड़की के पिता ने किया शादी से इंकार, लौटाई बारात

खंडवा।

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां लड़की के पिता ने दूल्हे को बारात से इस कारण से लौटा दिया कि वो शेफिंग करके नहीं आया था, उसकी दाढ़ी बढ़ी हुई थी। मामला अजंटी गांव का है।हालांकि बाद में दुल्हा शेविंग करवाकर पहुंचा और फिर शादी हुई।

दरअसल, जिला मुख्यालय से करीब 18 किलोमीटर दूर अजंटी गांव में सोमवार शाम राधेश्याम जाधव की बेटी रूपाली की शादी मंगल सिंह चौहान से होनी थी। सोमवार शाम मंगल हरसूद ब्लाक के जूनापानी से बारात लेकर पहुंचा।तभी लड़की के पिता राधेश्याम ने मनोज की दाढ़ी पर एेतराज जताया और शादी करने से इंकार कर दिया।इस बात को लेकर मंगल सिंह भी शेविंग ना कराने पर अड़ गया।इसके बाद दोनों पक्षों के बीच विवाद शुरु हो गया। विवाद इतना लंबा चला की शादी का मुहुर्त ही निकल गया। इसके बाद दोनों पक्षों को रिश्तेदारों और बुजुर्गों ने समझाइश दी गई तब जाकर बारात लौटी।इसी बीच किसी ने पुलिस को भी फोन कर दिया । दूसरे दिन यानि मंगलवार को मंगल शेविंग करवाकर फिर बारात लेकर पहुंची और फिर लगन की सभी रस्में पूरी हुई। 

पुलिस ने जब दुल्हा से शेविंग ना करने की वजह पूछा तो उसने बताया कि उसने ये दाढी अपने पिता के गुम हो जाने पर मन्नत के रुप में रखी थी।लड़के वालों ने बताया कि दूल्हा मंगल चौहान के पिता रायसिंह तीन साल पहले कहीं चले गए और वापस नहीं आए थे।इस कारण मंगल ने पिता के मिलने तक दाढ़ी नहीं बनवाने की मन्नत रख ली थी। इस कारण शेविंग नहीं कराई थी। दूल्हा मंगल व उसका भाई बगैर शेविंग के बरात लेकर गए थे।इसके बाद दूल्हे को समझाया कि वह मंदिर में क्षमा मांगकर मन्नत उतार दे और शेविंग करा ले। दुल्हा ने सभी की बात को मानते हुए मन्नत उतार दी और शेविंग करवाकर दूसरे दिन बारात लेकर पहुंचा।


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...