मंत्री न बनाये जाने पर बोले शेरा, 'कन्वेंस नहीं हो रहे सीएम कमलनाथ'

भोपाल।

कमलनाथ सरकार को बाहर से समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायक सुरेंद्र सिंह शेरा का सपना मंत्री बनने का है और वे लगातार इसके प्रयास में है, लेकिन अब लगता है उनका सब्र का बांध टूटने लगा है। कमलनाथ सरकार द्वारा उन्हें मंत्री ना बनाए जाने का दर्द बार बार मीडिया के सामने झलक रहा है। आज एक बार फिर मंत्री न बनाये जाने को लेकर उन्होंने मीडिया में बयान दिया।  उनका कहना है कि कमलनाथ जी कन्वेंस नहीं हो रहे है। मैं हाथ जोड़कर अपने काम करवा रहा हूं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कमलनाथ और सरकार के साथ हैं।  शेरा के इस बयान से एक फिर चर्चाएं शुरू हो गई हैं।

यह पहला मौका नही है जब मंत्री न बनाये जाने की उनकी पीड़ा सामने आई हो । इससे पहले शेरा कई बार मंत्री बनने का दावा कर चुके है। बीते दिनों विधानसभा में उन्होंने मीडिया से चर्चा के दौरान कहा था कि वह जल्द ही मंत्री बनेंगें। इससे पहले उन्होंने मंत्री बनाए जाने में हो रही देरी के लिए सरकार पर शायराने अंदाज में भी तंज कसा था। वही उन्होंने विधायक शेरा को प्रदेश में पहली बार रविवार को सत्र लगाने को लेकर कहा कि कमलनाथ की सरकार काम करने वाली सरकार है। बीजेपी की शायद काम करने वाली नहीं थी। बता दे कि एमपी के इतिहास में यह पहला मौका है जब रविवार को सत्र बुलाया गया हो ।

गौरतलब है कि कमलनाथ सरकार 114 विधायकों के साथ बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के 2 विधायकों, समाजवादी पार्टी (सपा) के 1 और 4 निर्दलीय विधायकों के समर्थन से सरकार में है, जिसके चलते विपक्ष बार बार सरकार की अस्थिरता को लेकर सवाल उठाता रहा है, ऐसे में समर्थक विधायकों की नाराजगी की खबरे भी सुर्खियां बन जाती है। वहीं निर्दलीयों विधायकों की बयानबाजी भी सरकार की मुश्किलें बढ़ाती है, क्यूंकि बीजेपी इसे मुद्दा बनाकर सरकार को घेरने का प्रयास करती है। निर्दलीय विधायक शेरा को विश्वास है कि वे मंत्री बनेंगे लेकिन कब यह उन्हें भी पता नहीं है, जिसके चलते बार बार उनके बयान मीडिया में आते रहते हैं।

"To get the latest news update download the app"