10 दिन में कर्ज माफी का वादा, ''अच्छे दिन'' जैसा वादा नहीं : नेता प्रतिपक्ष

छतरपुर | नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने न्याय यात्रा के चौथे चरण के तहत तीसरे दिन महाराजपुर, बीजावर, बड़ा मलहरा और छतरपुर मेंमें प्रदेश सरकार पर जमकर हमला बोला| अजय सिंह ने कहा 15 साल से सत्ता में बने रहने के बाद आज भाजपा सरकार ने जनता की आवाज को सुनना बंद कर दिया है। यह सरकार अब सिर्फ माफियाओं की बात सुन रही है चाहे वो रेत खनन वाले हो, शिक्षा वाले हो या फिर शराब ठेकेदार। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार ने लोगों को सिर्फ छला है, सपने दिखाए लेकिन उसे पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने मध्यप्रदेश के किसानों को कांग्रेस की सरकार के आने पर 10 दिन के अंदर कर्जमाफी का सौगात देने का जो वादा किया है, वह अच्छे दिनों जैसा वादा नहीं है, क्योंकि राहुल जी ही थे जिन्होंने मनमोहन सिंह सरकार से पहल कर पूरे देश के किसानों के 72 हजार करोड़ का कर्जा माफ कराया था। उसी कर्जमाफी के दौरान मध्यप्रदेश में बड़ा घोटाला प्रदेश की सरकार ने किया था। 


भाजपा किसी की सगी नहीं, सत्ता पाने झूठ बोल सकती है 

अजय सिंह ने कहा कि जब नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बनने के लिए छटपटा रहे थे तो उन्होंने देश के युवाओं से वादा किया था कि 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देंगे, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया। मध्यप्रदेश में शिवराज सरकार ने व्यापम जैसा घोटाला कर पैसे लेकर नौकरियां दी। खबर तो यहां तक है कि मुख्यमंत्री की ससुराल गोंदिया के एक गांव के 40 लोगों को मध्यप्रदेश में नौकरियां बाटी गई। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा किसी की सगी नहीं है यह सत्ता पाने के लिए कुछ भी कर सकती है और कोई भी झूठ बोल सकती है। 


कांग्रेस की योजनाओं का नाम बदल कर आगे बढ़ा रही सरकार 

नेता प्रतिपक्ष श्री सिंह ने कहा कि वादाखिलाफी करने वाली, झूठ बोलने वाली इस सरकार को पद और कद से हटाने का काम जनता करेगी।   शिवराज सरकार जिन गरीबों की आज बात कर रहे हैं उन गरीबों को राहत देने कांग्रेस का हमेशा एजेंडा रहा है। उन्होंने याद दिलाया कि जब उनके पिता अर्जुनसिंह मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री थे जब उन्होंने तेदूंपत्ता के मजदूरों को मालिक बनाया, उन्हें बोनस दिया, एक बत्ती कनेक्शन दिया। झूग्गी झोपड़ी वालों को पट्टा देकर उन्हें अपने घर का मालिकाना हक दिया। श्री सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार सिर्फ कांग्रेस की नीतियों और उनकी योजनाओं को नाम बदलकर आगे बढ़ाने का काम कर रही है। 

"To get the latest news update download tha app"