क्यों नाराज हुआ एमपी सरकार का लिपिक वर्ग...देखिये वीडियो

भोपाल| राजधानी के पलाश रेजीडेंसी होटल में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ के साथ कुछ कर्मचारी संगठनों की बैठक को लेकर विवाद खड़ा हो गया है।  इस बैठक में कमलनाथ के सामने कर्मचारी संगठनों ने अपनी समस्याएं रखी और सरकार आने पर उनके हल करने का कमलनाथ ने वचन भी दिया। लेकिन इस बीच एक वक्ता  ऐसी बात बोल गए जिसको लेकर कर्मचारियों का एक बड़ा वर्ग नाराज है ।

दरअसल अपाक्स के संरक्षक भुवनेश पटेल ने लिपिक वर्ग को टाइम पर न आने वाला और विकास के काम में रोड़े अटकाने वाला बताकर बवाल खड़ा कर दिया ।अब मध्यप्रदेश के लगभग पचास हजार लिपिक इससे नाराज हो गए हैं ।लिपिक वर्ग के संरक्षक सुधीर नायक ने इस पूरे मामले में मुख्यमंत्री से कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कमलनाथ से भी आग्रह किया है कि इस तरह के बयान देने वाले वक्ता के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें। कार्रवाई ना होने पर लिपिको ने हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है। हालांकि भुवनेश पटेल ने यह बयान क्यों दिया यह समझ से परे है क्योंकि जब हर वर्ग के हित की बात हो रही थी तो आखिर लिपिकों को निकम्मा, कामचोर या वक्त का पाबंद ना होने वाला क्यों बताया गया|


"To get the latest news update download tha app"