धनुष तोप में चीनी कलपुर्जों का मामला, CBI की टीम ने GCF फैक्टरी में दी दबिश

जबलपुर|  स्वदेशी बोफोर्स तोपों के लिए चीन में बने कलपुर्जों की आपूर्ति मेड इन जर्मनी बताकर किए जाने के मामले मे सीबीआई एक बार फिर जबलपुर पहुॅची है। सीबीआई की टीम ने जीसीएफ फैक्ट्री मे दबिश देते हुए खरीदी से जुड़े कई अहम दस्तावेज और उपकरणो को सीज़ किया है। सीबीआई की टीम ने धनुष तोप मे की गई बेयरिंग की खरीदी प्रक्रिया से जुडे जूनियर वर्क्स मैनेजर एस सी खपुआ के दफ्तर और आवास भी पहुॅची और उनके कम्प्यूटर को जप्त किया साथ ही उनके बयान भी दर्ज किए।

धनुष मे चीनी कलपुर्जाे का मामला सामने आने के बाद सीबीआई ने दिल्ली की सिद्ध सेल्स सिंडीकेट कंपनी समेत अज्ञात अधिकारियो के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज पहले ही कर ली थी । जबलपुर की जीसीएफ फैक्टरी में ये दूसरा मौका होगा जब सीबीआई की टीम पहुॅची है।


क्या था पूरा मामला .......

2017 मे सीबीआई ने इस मामले में दिल्ली की सिद्ध सेल्स सिंडिकेट के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की । साथ ही जांच एजेंसी ने जबलपुर की गन कैरिज फैक्टरी (जीसीएफ) के अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी और जालसाजी का मामला दर्ज कर जाँच शुरु कर दी । मामला उजागर होने के बाद 2 दिनो तक जबलपुर मे सीबीआई की टीम ने कई अधिकारियो से पूछताछ की वही धनुष सेक्षन की फाइल नंबर 13 एफ 003 को जप्त कर लिया है।  हम आपको बता दे कि धनुष बोफोर्स तोप का स्वदेशी संस्करण है|

"To get the latest news update download tha app"