मैग्निफिसेंट एमपी: CM ने तैयारियों का लिया फीडबैक, अधिकारियों को दिए यह निर्देश

भोपाल| इंदौर में आयोजित किये जा रहे मैग्नीफिसेंट एमपी कार्यक्रम को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को जरूरी निर्देश दिए| मैग्निफिसेंट एमपी की तैयारियों की अब तक हुई प्रगति और इसमें शामिल होने वाले निवेशकों की जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने आयोजन के दौरान होने वाले विभिन्न संवाद सत्रों पर भी विस्तार से चर्चा की। इसके अलावा कार्यक्रम में बैठक व्यवस्था व समय को लेकर भी चर्चा की गई| 

सूत्रों के मुताबिक तय किया गया है कि कार्यक्रम के दौरान मंच पर कोई नहीं बैठेगा। मुख्यमंत्री सहित सभी अतिथि मंच के सामने बैठेंगे और जिसका भी नाम पुकारा जाएगा, वो मंच पर जाकर अपनी बात रखेगा। इस दौरान चुनिंदा उद्योगपतियों के प्रस्तुतिकरण होंगे। वहीं पहले सत्र का कार्यक्रम ढाई से तीन घंटे का होगा। कार्यक्रम में उद्योग, कोयला, कौशल विकास और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के सचिव हिस्सा लेंगे।  सूत्रों का कहना है कि उद्योग और निवेश प्रोत्साहन नीति को उद्योगों की जरूरत के हिसाब से तैयार करने की दिशा में सरकार काम कर रही है। मैग्निफिसेंट एमपी से पहले कैबिनेट बैठक में नीति में आधा दर्जन से ज्यादा संशोधन किए जा सकते हैं। इसका मसौदा लगभग तैयार हो चुका है।

मुख्यमंत्री कमल नाथ ने निर्देश दिए हैं कि समारोह में प्रदेश में निवेश सहित अन्य क्षेत्रों में हुए विकास को बेहतर तरीके से प्रस्तुत किया जाए। कमल नाथ ने कहा कि आयोजन के जरिए निवेशकों का प्रदेश के प्रति विश्वास बढ़ाना ही हमारा लक्ष्य है।  नए निवेश के साथ प्रदेश की प्रगति हो और हमारे युवाओं को रोजगार मिले, इस दृष्टि से मैग्नीफिसेंट एमपी हमारे लिए एक महत्वपूर्ण अवसर है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा यह प्रयास कागजी न रहे। उन्होंने कहा कि वास्तविक निवेश लाने के लिए बेहतर तैयारियाँ की जाएँ।  

"To get the latest news update download the app"