Breaking News
21 अगस्त को भोपाल मे होने वाली 'अटल जी' की श्रद्धांजलि सभा में कांग्रेस भी होगी शामिल | चुनाव से पहले यात्राओं का दौर, दिग्विजय के बाद जयवर्धन ने शुरू की पदयात्रा | कांग्रेस का आरोप- नरेला विधानसभा में 11 हजार फर्जी वोटर, विधायक बोले- असली को नकली बता रहे | प्रशासन बता रहा 'डेंगू' छुआछूत की बीमारी | किसकी होगी पूरी मुराद, आज महाकाल के दर पर सिंधिया-शिवराज | सड़क पर सियासत : कमलनाथ बोले- बुधनी से अच्छी छिंदवाड़ा की सड़कें, शिवराज जी एक बार जरुर आए | सुल्तानगढ़ वॉटरफॉल हादसा : मौत से संघर्ष के बाद भी कैसे हार गई 9 जिंदगियां, देखें वीडियो | शर्मसार : सागर में नाबालिग से गैंगरेप, बीते दिनों ही मिला था सबसे सुरक्षित शहर का तमगा | कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लिया विस चुनाव में भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प | केंद्रीय मंत्री की बहन को एसिड अटैक और मारने की धमकी |

VIDEO: एक और BJP विधायक की फिसली जुबान, कांग्रेसी नेताओं को बताया सपोला-काला बिच्छू

सतना| चुनाव से पहले अपनी दावेदारी पक्की करने नेताओं ने बड़े बोल बोलना शुरू कर दिए हैं, ताकि पार्टी के वरिष्ठों की नजरों में बने रहे| लेकिन राजनीतिक मर्यादा को लांघते हुए नेता एक के बाद एक विवादित बयान दे रहे हैं| एक सप्ताह में ही भाजपा विधायकों ने विवादित बयानों की हैट्रिक लगा दी है| अब एक और विधायक की जुबान फिसली है, सतना से बीजेपी विधायक शंकर लाल तिवारी के बोल बिगड़ गए हैं| उन्होंने कांग्रेस पर तीखा प्रहार करते हुए कांग्रेसियों को सपोला और काला बिच्छू तक कह डाला| 

दरअसल, आज प्रदेश भर में किसान समृद्धि योजना कार्यक्रम किये गए हैं| मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर में योजना की शुरुआत कर किसानों के खाते में पिछले साल बेचे गए गेहूं की बोनस राशि 200 रुपए क्विंटल डाली है| हर जिले में इसको लेकर आयोजन हुए थे| इसी क्रम में सतना में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा विधायक शंकर लाल तिवारी अपना आपा खो बैठे और  मंच से ही कांग्रेसियों को सपोला और बिच्छू कह डाला । भावान्तर योजना का गुणगान करते हुए विधायक ने कहा कि ये योजना किसानों के हित की है लेकिन कांग्रेसी सपोला ने जनता को गुमराह किया और शिवराज पर आरोप लगाए मगर उनसे सतर्क रहने की जरूरत है| विधायक यही नहीं रुके| उन्होंने आगे कहा कि आजकल गर्मी का मौसम है ज़रा सावधान रहना इनकी संख्या ज्यादा बढ़ गई और साथ काली बिच्छू भी है| 

 

इसलिए फिसल रही जुबान 

बता दें कि आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा द्वारा कराए गए आंतरिक सर्वे रिर्पो से पार्टी ने खराब परफॉर्मेंस वाले विधायक एवं सांसदों को अवगत करा दिया है। जिन विधायकों के टिकट पर तलवार लटकी है, उन्हें पार्टी ने दो टूक कहा है कि वे समय रहते परफार्मेंस सुधार लें। चुनाव से पहले आखिरी सर्वे होगा, यदि रिपोर्ट खराब आई तो फिर टिकट कटना तय मानें। संगठन की हिदायत के बाद भाजपा विधायकों ने जनता की सुध लेना शुरू कर दिया है। लेकिन उन्हें जनता की नाराजगी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में कई विधायक आपा खो रहे हैं तो कोई शीर्ष नेताओं के गुणगान में जुट गए हैं। परफॉर्मेंस सुधारने और वरिष्ठ नेताओं की नजर में आने की जल्दबाजी में नेताओं की जुबान बार बार फिसल रही है| 


  Write a Comment

Required fields are marked *

Loading...