Tata Punch iCNG भारत में लॉन्च, मिलेगा इलेक्ट्रिक सनरुफ, खरीदने से पहले जान लें ये 6 जरूरी बातें

Manisha Kumari Pandey
Published on -

New Car Launch: टाटा ने 4 अगस्त को अपनी कार को भारत में लॉन्च कर दिया है। जल्द ही नई Tata Punch iCNG भारत के सड़कों पर दौड़ती नजर आयेगी। कार की चर्चा लंबे समय से हो रही है। वहीं कंपनी Tiago और Tigor मॉडल में भी अपडेट किया है। दोनों ही कारों में ट्विन-सिलेंडर टेक्नोलॉजी को जोड़ा गया है।

नई कार Hyundai Exter को देगी टक्कर

टाटा पंच सीएनजी मॉडल मार्केट में हुंडई एक्सटर एसयूवी को टक्कर दे सकती है। उम्मीद है कि भारत के टियर 1 और टियर 2 शहरों में इसकी बिक्री अधिक हो सकती है।

Tata Punch iCNG भारत में लॉन्च, मिलेगा इलेक्ट्रिक सनरुफ, खरीदने से पहले जान लें ये 6 जरूरी बातें

डिजाइन के बारे में

टाटा पंच सीएनजी का लुक स्टैन्डर्ड मॉडल जैसा ही है। इतना ही नहीं कार का इंटीरियर भी आपको पेट्रोल मॉडल की याद दिलाएगा। केवल एक एडिशनल बटन को कार में जोड़ा गया है।

क्यों खास है टाटा पंच सीएनजी?

नई Punch iCNG पहली माइक्रो एसयूवी है, जो इलेक्ट्रिक सनरुफ के साथ आती है। इसके अलावा अन्य कई फीचर्स कार में जोड़े गए हैं।

Tata Punch iCNG भारत में लॉन्च, मिलेगा इलेक्ट्रिक सनरुफ, खरीदने से पहले जान लें ये 6 जरूरी बातें

फीचर्स

टाटा पंच सीएनजी में 7.0 इंच इन्फोटेन्मेंट यूनिट, ऑटोमैटिक प्रोजेक्टर हेडलाइट्स, Apple CarPlay और एंड्रॉयड ऑटो कनेक्टिविटी और हाइट एडजस्टेबल ड्राइवर मिलता है। इसके अलावा एसयूवी में ट्विन सिलेंडर टेक्नोलॉजी लैस किया गया है। इसमें दो छोटे-छोटे सीएनजी टैंक्स जोड़े गए, जिसके कारण कार के स्पेस का सही इस्तेमाल हो सकता है।

Tata Punch iCNG भारत में लॉन्च, मिलेगा इलेक्ट्रिक सनरुफ, खरीदने से पहले जान लें ये 6 जरूरी बातें

वेरिएन्ट और कीमत

पंच सीएनजी 1.2 लीटर 3-सिलेंडर पेट्रोल इंजन के साथ आती है, जो 86PS पावर और 113Nm टॉर्क उत्पन्न करने में सक्षम है। वहीं सीएनजी मोड में इंजन 73.4PS पावर और 103Nm टॉर्क उत्पन्न करने में सक्षम है। साथ में 5-स्पीड गियरबॉक्स मिलता है। इसके 5 वेरिएन्ट उपलब्ध होंगे: प्यूर, एडवेंचर, एडवेंचर Rhythm, एकॉम्प्लिश्ड और एकॉम्प्लिश्ड डैज़ल एस। कार की कीमत 7.10 लाख रुपये से लेकर 9.68लाख (एक्स शोरूम) है।

 

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News