Cyclone Alert : चक्रवाती तूफ़ान का अलर्ट जारी, कई राज्यों में होगी भारी बारिश

मौसम विभाग ने मछुआरों से समुद्र से दूर रहने की अपील की है।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट।  तेजी से बदलते मौसम के बीच उत्तरी आंध्रप्रदेश और ओड़िशा के तटीय इलाकों के आसपास एक चक्रवाती तूफान (Cyclone Storm) बन रहा है। मौसम विभाग (IMD)के अनुसार ये 3 दिसंबर को मजबूती के साथ उत्तर पश्चिम की तरफ बढ़ेगा और 4 दिसंबर को सुबह उत्तरी आंध्रप्रदेश और ओड़िशा के तटीय इलाकों (Andhra Pradesh and  Coastal areas of Odisha) से टकराएगा। इसका नाम चक्रवात जोवाड़ (Cyclone Jowar) दिया गया है। मौसम विभाग ने मछुआरों से सावधान रहने की अपील की है।  उधर पश्चिमोत्तर और मध्य भारत में पश्चिमी विक्षोभ के चलते भारी बारिश के आसार जताये जा रहे हैं।

मौसम विभाग ने अपने अधिकृत ट्विटर हैंडिल पर जानकारी शेयर करते हुए चक्रवात की पूरी जानकारी दी है। मौसम विभाग की मानें तो उत्तर आंध्र प्रदेश-ओडिशा तट के आसपास एक चक्रवात दिखाई दे रहा है।  3 दिसंबर के आसपास चक्रवाती तूफान के तेज होने की संभावना है इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और 4 दिसंबर की सुबह के आसपास उत्तर आंध्र प्रदेश-ओडिशा तट तक पहुंचने की सम्भावना है।

ये भी पढ़ें – Omicron Effect : 15 दिसंबर से शुरू नहीं होंगी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, सर्कुलर जारी

इसके 3 से 5 दिसंबर 2021 के दौरान पश्चिम-मध्य और उससे सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और उत्तर आंध्र प्रदेश के साथ-साथ – ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों पर पहुँचने की सम्भावना है। चक्रवात के चलते भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है।  मौसम विभाग ने मछुआरों को इस दौरान समुद्र से दूरी बनाने की अपील की है।

ये भी पढ़ें – Transfer : मप्र में IPS अधिकारियों के तबादले, यहाँ देखें लिस्ट

उत्तरभारत में भी भारी बारिश की चेतावनी  

मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमोत्तर और मध्य भारत में पश्चिमी विक्षोभ यानि वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के चलते भारी बारिश के आसार जताये जा रहे हैं।  इसका असर महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश में भारी बारिश  हो सकती है।  मौसम विभाग ने उत्तर पूर्वी राज्यों में 5- 6 दिसंबर को भारी बारिश के संकेत दिए हैं।

ये भी पढ़ें – UPSC CISF Recruitment 2021: इन पदों पर निकली वैकेंसी, जाने पात्रता सहित अन्य जानकारी