बीजेपी प्रत्याशी जसवंत जाटव पर एफआईआर, वोटरों को लुभाने का आरोप

बीजेपी

शिवपुरी, मोनू प्रधान। आगामी उप चुनाव(by election) की घोषणा के साथ ही प्रदेश में आचार संहिता लागू हो गई है। अपने अपने दलों का प्रचार कर रहे हैं नेताओं द्वारा लगातार आचार संहिता का उल्लंघन किया जा रहा है। जिस पर बड़े पैमाने पर उन पर मामले दर्ज किए जा रहे हैं। इसी बीच शिवपुरी जिले के करैरा विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी जसवंत जाटव(jaswant jatav) का एक वीडियो(video) तेजी से सोशल मीडिया(social media) पर वायरल हो रहा है।

जिसके बाद कांग्रेस(congress) ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग ने की थी। चुनाव आयोग की तरफ से बीजेपी नेता जसवंत यादव को सफाई देना था। जिस पर उन्होंने कहा कि वह इस समय का वीडियो नहीं और आचार संहिता से पहले का है तो उन्हें पता नहीं। वहीं उन्होंने वोटरों को लुभाने के आरोपों से भी इंकार कर दिया था। जिसके बाद अब उन पर एफआईआर(FIR) दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़े: जसवंत जाटव बोले, वायरल वीडियो मेरा नहीं, वोटरों को लुभाने के आरोपों को नकारा

दरअसल पिछले दिनों सिंधिया समर्थक का एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा था। जिसमे वह कुछ महिला से माता की मूर्ति बैठाने के नाम पर 10,000 देने की बात कह रहे थे। जहां सोशल मीडिया पर तेजी से वीडियो वायरल होने के बाद कांग्रेस ने इसकी शिकायत चुनाव आयोग में की थी।

वहीं कांग्रेस नेता नरेंद्र सलूजा(narendra saluja) ने ट्वीट के जरिए वीडियो समझा कर लिखा था कि बीजेपी प्रत्याशी वोट के लिए नोट से लोगों को लुभाने का काम कर रहे हैं। इसके साथ ही साथ वह लोगों को धमका भी रहे हैं। इसके बाद चुनाव आयोग ने इस मामले में जसवंत जाटव से जवाब मांगा था। इधर गुरुवार को करैरा विधानसभा सीट पर्चा दाखिल करने पहुंचे। जसवंत जाटव ने कहा कि बीजेपी में कोई गुटबाजी नहीं है। वहां का कार्यकर्ता बहुत अनुशासित है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here