इंटरसिटी ट्रेन ने उड़ाए आयशर के परखच्चे, रेलवे ने कहा- दोषियों पर होगी कार्रवाई

जिसके बाद लोडिंग वाहन प्लेटफार्म के करीब ट्रैक पर फंस गया और जब ट्रेन आई तो उसके परखच्चे उड़ गए। वही ये बात भी सामने आई है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर में शुक्रवार रात एक बड़ा हादसा टल गया। दरअसल, भोपाल से इंदौर आ रही इंटरसिटी जैसे ही लक्ष्मीबाई नगर पहुंची तो वहां पटरी पर पहले से ही मौजूद आयशर को उसने टक्कर मार दी। गनीमत ये रही कि लोको पायलट द्वारा समय रहते इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया गया। जिससे एक बड़ा रेल हादसा टल गया। वही ट्रेन की टक्कर से कोई जनहानि नही हुई है। इधर, पश्चिम रेल्वे रतलाम मंडल और रेल्वे पुलिस पूरी घटना की जांच में जुट गई है और हादसे के दोषियों पर कार्रवाई भी तय मानी जा रही है।

बता दे कि भोपाल से शाम को चली इंटरसिटी जब इंदौर के लक्ष्मीबाई नगर स्टेशन पहुंची तो रेल्वे ट्रैक पर एक लोडिंग वाहन खड़ा था। जिसके बाद लोको पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक तो लगा दिया। बावजूद इसके लोडिंग वाहन के परखच्चे उड़ गए। मिली जानकारी के मुताबिक एक अन्य वाहन द्वारा लोडिंग वाहन को टक्कर मारी गई। जिसके बाद लोडिंग वाहन प्लेटफार्म के करीब ट्रैक पर फंस गया और जब ट्रेन आई तो उसके परखच्चे उड़ गए। वही ये बात भी सामने आई है।

Read More: सरकारी नौकरी 2020 – MP में इन पदों पर निकली है बंपर भर्तियां, जल्द करें अप्लाई

जिस वाहन ने लोडिंग आयशर को टक्कर मारी उसे नशे में धुत्त चालक चला रहा है। जिसकी जानकारी जुटाई जा रही है। दुर्घटना में कोई बड़ी जनहानि तो नही हुई लेकिन पहली बार इंदौर में ऐसा मामला सामने आने के रेल प्रशासन पर गम्भीर सवाल भी उठ रहे है क्योंकि वक्त रहते यदि सही समय पर लोको पायलट को सूचना मिल जाती तो सबकुछ सामान्य रहता।

पश्चिम रेल्वे रतलाम मंडल के पीआरओ जितेंद्र कुमार जयंत ने बताया कि हादसे को गम्भीरता से लेकर रेलवे जांच कर रहा है और दोषी पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वही घटना के बाद के करीब 1 घण्टा 35 मिनिट की देरी के बाद ट्रैक पर से इंटरसिटी ट्रेन इंदौर की और बढ़ी।

फिलहाल, एक बड़ा ट्रेन हादसा होने से टल गया और अब पुलिस लोडिंग वाहन को टक्कर मारकर रेल्वे ट्रेक पर कुदाने वाले वाहन चालक की तलाश ने जुट गई है और अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ IND/CR No. 1008/2020 U/S 153, 174(B) & 147 RA dtd.11.12.2020 दर्ज किया गया है।