ग्वालियर में नहीं बढ़ेगा लॉकडाउन, हो सकते हैं यह निर्णय

lockdown
lockdown

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  जिला क्राइसिस कमेटी की बैठक में ग्वालियर में लॉकडाउन (Lockdown) नहीं बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। अब यह प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा जाएगा और राज्य सरकार के निर्णय के बाद ही अंतिम फैसला होगा।

इंदौर के बाद उज्जैन भी 19 अप्रैल तक के लिए लॉक, आवश्यक वस्तुओं की रहेगी छूट

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) के साथ क्राइसिस कमेटी की बैठक में ग्वालियर में लॉकडाउन (Lockdown) नहीं बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। वर्तमान में ग्वालियर में शुक्रवार शाम 6 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे यानी 60 घंटे का लॉकडाउन (Lockdown) नगरीय क्षेत्रों में लागू है और कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने इन सब से आगे बढ़कर शराब की दुकानों को भी दो दिन के लिए बंद कर दिया था। शनिवार को जिला क्राइसिस कमेटी की मुख्यमंत्री के साथ हुई बैठक में यह आम सहमति बनी कि ग्वालियर में लॉकडाउन (Lockdown)  नहीं किया जाए क्योंकि इससे अर्थव्यवस्था पर विपरीत प्रभाव पड़ता है और लोगों की दिनचर्या भी प्रभावित होती है। इसके बजाय यह प्रस्ताव भेजा गया है कि शाम 6 बजे तक सभी मार्केट बंद कर दिए जाएं और उसके बाद में आवागमन को भी बेहद सीमित कर दिया जाए। कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह का मानना है कि इन सब प्रयासों से कोरोना को रोकने में सफलता मिलेगी ।ग्वालियर के विभिन्न व्यापारी संगठन और राजनेता भी इस बात के लिए राजी हो गए हैं कि शाम 6 बजे के बाद अचानक बाजारों में टूटने वाली भीड़ पर नियंत्रण लगेगा और कोरोना के संक्रमण पर यह एक प्रभावी कदम होगा।

इंदौर में 4000 रेमडेसिविर इंजेक्शन पहुंचे, जल्द होगी कमी पूरी

जिला क्राइसिस कमेटी की बैठक में यह भी निर्णय लिया गया है कि अत्यावश्यक सेवाएं 24 घंटे चालू रहेंगी। जिला क्राइसिस कमेटी ने अपना यह प्रस्ताव राज्य सरकार को भेज दिया है और इससे राज्य सरकार ने भी सहमति जताई है। उम्मीद इस बात की है कि शाम होते-होते ग्वालियर के संबंध में भी आदेश जारी कर दिए जाएं।