MPPSC: राज्य सेवा परीक्षा 2020 से पहले हजारों उम्मीदवारों को बड़ा झटका, यह है कारण

इसके बाद अभ्यर्थियों में कड़ा विरोध देखने को मिल रहा है।

MPPSC

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश पब्लिक सर्विस कमीशन (Madhya Pradesh Public Service Commission) ने राज्य सेवा परीक्षा 2020 के लिए नोटिफिकेशन (notification) जारी किया है। जिसके लिए ऑनलाइन एप्लीकेशन 11 जनवरी से शुरू किए जाएंगे। वहीं आवेदन भरने की अंतिम तिथि 10 फरवरी रखी गई है। हालांकि अब एमपीपीएससी (MPPSC) परीक्षा को लेकर उम्मीदवारों ने कड़ा विरोध देखने को मिल रहा है। इसका बड़ा कारण है आयु सीमा की गणना।

दरअसल मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने राज्य सेवा परीक्षा 2020 के लिए आयु की गणना 1 जनवरी 2021 निर्धारित की है जबकि उम्मीदवारों को कहना है कि आयु की गणना एक जनवरी 2020 के आधार पर होनी चाहिए। मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा 1 जनवरी 2021 के हिसाब से आयु की गणना करने से उम्मीदवारों को बड़ा झटका लगने वाला है। जहां प्रदेश के करीब 10 हजार उम्मीदवार परीक्षा देने से वंचित रह जाएंगे।

Read More: MPPSC: मध्यप्रदेश राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा के लिए सिलेबस जारी, देखें यहां

उम्मीदवारों की मांग है कि आयु की गणना 1 जनवरी 2020 के आधार पर किया जाना चाहिए। 1 जनवरी 2021 आयु गणना से प्रदेश के हजारों अभ्यर्थी ओवरएज हो जाएंगे और परीक्षा देने से वंचित रह जाएंगे। इसके साथ ही उम्मीदवारों का कहना है कि एमपीपीएससी अपने कैलेंडर से नहीं बल्कि 1 साल देरी से चल रहा है। जब परीक्षा 2020 की है तो आयु सीमा की गणना भी 2020 के आधार पर ही होनी चाहिए।

बता दे कि मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग ने 235 पदों के लिए नोटिफिकेशन जारी किया है। ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया 11 जनवरी से शुरू होकर 10 फरवरी तक चलेगी। वही एडमिट कार्ड 6 अप्रैल 2021 को जारी किए जाएंगे। जबकि 235 पदों पर प्रारंभिक परीक्षा 11 अप्रैल 2021 को आयोजित की जाएगी। वहीं इस परीक्षा में ओबीसी के पुराने नियमों के अनुसार 27% आरक्षण नियम लागू होंगे।

Read More: MPPSC : मध्यप्रदेश राज्यसेवा परीक्षा का नोटिफिकेश जारी, यहां देखें पूरी डिटेल्स

इसके साथ ही उम्मीदवारों की आयु 1 जनवरी 2021 को कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए और पदों के मुताबिक 40 वर्ष अधिकतम उम्र होनी चाहिए। वही वर्दीधारी पदों के लिए अधिकतम आयु सीमा 33 वर्ष निर्धारित की गई है।इसके बाद अभ्यर्थियों में आयु सीमा की गणना को लेकर कड़ा विरोध देखने को मिल रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here