अब उज्जैन में कोरोना से जंग हारा कलेक्टर कार्यालय में पदस्थ एक बाबू

उज्जैन।

इंदौर और राजधानी भोपाल के बाद अब कोरोना महामारी उज्जैन में भी तेजी से अपने पांव फैला रही है। गुरुवार की रात 13 नए मरीज मिलने के बाद उज्जैन में कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 100 पहुंच गया है। वही कलेक्टर कार्यालय में पदस्थ एक सरकारी बाबू की भी कोरोना संक्रमण से मौत हो गई है। इसी के साथ उज्जैन ने मरने वालों की संख्या 14 पहुंच गई है।

वही 13 नए कोरोना(corona) संक्रमित मरीज मिलने की पुष्टि करते हुए कलेक्टर(collector) शशांक मिश्रा ने कहा कि इनमें आम लोगों के अलावा कलेक्ट्रेट के एक सरकारी बाबू के साथ जिला अस्पताल(city hospital) की नर्स और एक डॉक्टर भी शामिल है। पॉजिटिव(positive) होने की जानकारी के बाद सभी को कवारांटाइन कर उनका इलाज किया जा रहा है। वही कार्यालय में पदस्थ सरकारी बाबू के संक्रमण में आने की वजह से पांच अन्य कर्मचारी भी पॉजिटिव पाए गए हैं। कलेक्टर ने इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि उन सभी का इलाज किया जा रहा है।

वहीं इससे पहले बुधवार दिन भर में तीन चरणों में करीब 400 रिपोर्ट आईं। सुबह पांच लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। दोपहर में 12 और लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, वहीं देर रात नौ और मरीजों में कोरोना मिला। बुधवार को जो नए मामले आए, उनमें बच्चे से लेकर युवा और बुजुर्ग सभी आयुवर्ग के लोग शामिल हैं।