जबलपुर, संदीप कुमार। मध्यप्रदेश में बढ़ती महंगाई और युवाओं की बेरोजगारी को लेकर जबलपुर में आज भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन ने रिक्शा यात्रा निकाली। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने कलक्ट्रेट का घेराव करने की कोशिश की लेकिन पहले से मौके पर तैनात पुलिस ने उन्हें बीच में ही गिरफ्तार कर लिया। इस दौरान पुलिस से कार्यकर्ताओं की जमकर झड़प हुई।

ये भी पढ़ें Itarsi : कोरोना से हुई पति की मौत, डिप्रेशन में आकर महिला पटवारी ने दुधमुंही बच्ची के साथ की खुदकुशी

जानकारी के अनुसार प्रदेश में तेजी से बढ़ती महंगाई और युवाओं को रोजगार न मिलने को लेकर आज NSUI ने अंजुमन स्कूल के पास एकत्रित होकर रिक्शा यात्रा के माध्यम से कलेक्ट्रेट का घेराव करने की तैयारी की थी पर पुलिस ने एनएसयूआई (NSUI) के कार्यकर्ताओं को बीच में ही रोक कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। NSUI के प्रदर्शन के दौरान कार्यकर्ताओं और पुलिस की जमकर झड़प हुई कार्यकर्ता थे की कलेक्ट्रेट का घेराव करना चाह रहे थे तो वहीं पुलिस उन्हें रोकने के प्रयास कर रहीं थी जिसको लेकर दोनों के बीच झड़प हो गई।

ये भी पढ़ें Bhushan Kumar Rape Case: T-Series के मालिक भूषण कुमार पर रेप का आरोप, मुंबई में FIR दर्ज, जाने पूरा मामला

शांतिपूर्ण प्रदर्शन को पुलिस ने ही बनाया उग्र

भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन के प्रदेश उपाध्यक्ष सौरभ गौतम ने पुलिस प्रशासन पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनका प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग से था जो कि एक रिक्शा यात्रा के तहत कलेक्ट्रेट तक पहुंचने का पर पुलिस ने उनके प्रदर्शन को स्वयं ही उग्र बना दिया और जब उनकी गिरफ्तारी की, इधर एनएसयूआई के प्रदेश सचिव सचिन रजक ने कहां है कि प्रदेश सरकार अपने कारनामों को छुपाने के लिए जितनी भी पुलिस बल तैनात कर दे पर भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन का विरोध किसी भी कीमत में नहीं रुकेगा।

बिना अनुमति हो रहा था प्रदर्शन

इधर जबलपुर पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे 50 से ज्यादा NSUI कार्यकर्ताओ को गिरफ्तार किया है, पुलिस का कहना है कि NSUI के पदाधिकारी और कार्यकर्ता बिना अनुमति के रिक्शा यात्रा रैली निकाल रहे थे इतना ही नही इनके प्रदर्शन में कोरोना गाइडलाइन का भी उल्लंघन किया जा रहा था।