Rice Politcs: कमलनाथ ने ध्यान नही दिया था, इसलिए जनता तक पहुंचा घटिया चावल- भूपेंद्र सिंह

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (MP) के बालाघाट एवं मंडला जिले (Balaghat and Mandla districts) में गरीबों को घटिया क्वालिटी का चावल (Rice) वितरण करने के मामले की जांच अब ईओडब्ल्यू करेगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को उच्चतर स्तरीय बैठक में मामले की जांच ईओडब्ल्यू (EOW) से कराने के निर्देश दिए हैं। इस पर प्रदेश नगरीय प्रशासन मंत्री भूपेंद्र सिंह (Urban Administration Minister Bhupendra Singh) ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर विषय है, इंटेलीजेंस के द्वारा तत्कालीन मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) को यह अवगत कराया गया था कि प्रदेश में बड़ी मात्रा में बिहार से और अन्य स्थानों से घटिया चावल आ रहा है और उसके बदले में अच्छा चावल यहां से भेजा जा रहा है।

इतना ही नही आगे उन्होंने कहा कि यह बात उस समय के मुख्यमंत्री को सोचना चाहिए थी, परंतु उस समय कोई कार्यवाही नहीं की गई, कोई ध्यान नहीं दिया गया और उसके कारण यह घटिया चावल जनता तक पहुंचा। इसलिए पूरी तरह से कमलनाथ सरकार की लापरवाही या मिलीभगत थी। जिस कारण ये चावल प्रदेश की गरीब जनता तक पहुचा।

कमलनाथ और कांग्रेस जनता से माफी मांगे
इंटेलिजेंस की जांच को लेकर भूपेंद्र सिंह ने कमलनाथ पर आरोप लगते हुए कहा कि इंटेलिजेंस का जो इनपुट आता है वह सीधा सीएम को आता है, इसलिए इसमें सीधे तौर पर कमलनाथ इसके लिए जिम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि यहां वहां की बात करने से कमल नाथ अपनी जिम्मेदारी से बच नहीं सकते। इसलिए पूरी तरह से कमलनाथ सरकार ही जिम्मेदार है। उन्होंने कहा कमलनाथ को और कांग्रेस पार्टी को प्रदेश की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

17 सितंबर तक मुख्यमंत्री लगातार करेंगे दौरे
भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के दौरे को लेकर भूपेंद्र सिंह ने कहा भारतीय जनता पार्टी के नेताओं के दौरे जब से उप चुनाव घोषित हुए हैं। उसके पहले से चल रहे हैं सभी नेताओं के कार्यक्रम हो रहे हैं। उसी के अंतर्गत माननीय नरेंद्र सिंह जी, सिंधिया जी, वीडी शर्मा जी सहित सभी नेताओं के दौरे कार्यक्रम चल रहे हैं और मुख्यमंत्री जी आज से लेकर 17 तारीख तक लगातार प्रदेश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में दौरे पर जाएंगे।

कांग्रेस की बस पंचर हो गई
भूपेंद्र सिंह ने कमलनाथ के ग्वालियर दौरे को लेकर तंज कसते हुए कहा कि, कमलनाथ ने पहले बताया था कि बस से सारे नेता जाने वाले हैं। पिछले महीने यह कार्यक्रम बना था लेकिन कांग्रेस (Congress) बस में बैठी उससे पहले ही बस पंचर हो गई। उन्होंने कहा अभी जो दौरा कार्यक्रम है वह कब से है और क्या है यह दौरे पर ही पता चलेगा। भूपेंद्र सिंह ने कहा, कांग्रेस में भारी अंतर कलह है। डॉ. गोविंद सिंह पदयात्रा कर रहे हैं, कमलनाथ मेगा शो कर रहे हैं। कांग्रेस की यह अंतर कला मेगा शो में देखने को मिलेगी।

कांग्रेस ने भ्रष्टाचार की संस्कृति को दिया जन्म
कांग्रेस पर आरोप लगते हुए भूपेंद्र सिंह ने कहा कि, कांग्रेस ने इस देश में भ्रष्टाचार की संस्कृति को जन्म दिया है। स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेई जी की सरकार को मात्र एक सांसद के कारण प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था। उस समय कांग्रेस ने किस तरह से खरीद-फरोख्त की थी ऐसे अनेक उदाहरण पूरे देश में है। कांग्रेस की यही संस्कृति है और जिसकी जैसी संस्कृति होती है वह बाकी के बारे में भी ऐसे ही सोचता है।

उपचुनाव के होंगे नगरीय निकाय चुनाव
प्रदेश में होने वाले नगरीय निकाय चुनावों (Urban body elections) को लेकर भूपेंद्र सिंह ने कहा की नगर निगम चुनाव की प्रक्रिया चल रही है, वार्डों का आरक्षण भी हो रहा है। जैसे ही चुनाव समाप्त हुए माननीय मुख्यमंत्री जी से बात करके नगरीय निकाय चुनाव कराए जाएंगे।

प्रबंध समिति की बैठक लेकर बोले

भाजपा की प्रबंध समिति की बैठक को लेकर बताया मंत्री सिंह ने कहा कि, प्रबंध समिति की बैठक में मंत्रियों के कामकाज की बात नहीं होती, चुनाव प्रबंधन को लेकर चर्चा होती है। हमारा प्रबंधन का काम है, चुनाव प्रबंधन की दृष्टि से क्या कार्य होना चाहिए, चुनाव अभियान किस तरह का होना चाहिए, चुनाव प्रबंधन की दृष्टि से नेताओं के दौरे किस तरह होना चाहिए, विचार की रणनीति क्या होनी चाहिए इन सब मुद्दों पर हम लोग चर्चा करते हैं। उन्होंने कहा कल चर्चा हुई है हमने अनेक विषयों पर निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here