Aadhaar ATM: घर बैठे मिलेगा कैश, बस आधार नंबर की पड़ेगी जरूरी, खत्म होगी एटीएम जाने की झंझट, जानें डिटेल

AePS के जरिए आधार धारक यूजर्स बिना एटीएम जाए घर पर ही कैश मँगवा सकते हैं। पोस्टमैन ग्राहकों तक विथ्ड्रॉ किए गए कैश को डिलिवर करने में मदद करते हैं।

Manisha Kumari Pandey
Updated on -
aadhaar atm

Aadhaar ATM: आधार कार्ड जरूरी दस्तावेजों में से एक है, जो व्यक्ति के पहचान को दर्शाता है। लेकिन क्या आपको पता है आधार कार्ड एटीएम की जगह भी ले सकता है? आधार सक्षम भुगतान प्रणाली (Aadhaar Enabled Payment System) के जरिए बिना UPI और डेबिट कार्ड को उपयोग में लाए घर बैठे कैश प्राप्त किया जा सकता है। यह सुविधा इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक द्वारा दी जाती है।

इन सुविधाओं का मिलेगा लाभ

AePS के तहत बैंक ग्राहकों को अपने आधार सक्षम बैंक खाते का लाभ उठाने के लिए आधार नंबर की जरूरत पड़ती है। जिसके बाद पोस्टमैन ग्राहकों तक विथ्ड्रॉ किए गए कैश को डिलिवर करने में मदद करते हैं। एईपीएस के जरिए बैलेंस Enquiry, मिनी स्टेटमेंट और आधार टू आधार ट्रांसफर जैसी सुविधाओं का लाभ मिलता है।

Continue Reading

About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"