IT Layoffs: इस आईटी कंपनी ने अपने कर्मचारियों को दी बड़ी चेतावनी, बंद करना होगा वर्क फ्रॉम होम, ऑफिस नहीं आए तो जाएगी नौकरी!

IT Layoffs: आईटी सेक्टर की लगभग सभी बड़ी कंपनियां अब वर्क फ्रॉम होम को समाप्त कर रही हैं। दरअसल एक दिग्गज आईटी कंपनी ने अपने स्टाफ को सख्त चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने ऑफिस से काम करना शुरू नहीं किया, तो उन्हें नौकरी से भी निकाला जा सकता है।

IT Layoffs: आईटी सेक्टर की बड़ी कंपनियों में अब एक चलन बदल रहा है दरअसल अब बड़ी कंपनियों में वर्क फ्रॉम होम की सुविधा को धीरे-धीरे समाप्त किया जा रहा है।कई कंपनियों ने अब इसे गंभीर विषय मानते हुए ऑफिस न आने वालों को गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दी है। जानकारी के अनुसार कॉग्निजेंट (Cognizant) जैसी दिग्गज आईटी कंपनी ने अपने स्टाफ को सख्त चेतावनी दी है कि अगर उन्होंने ऑफिस से काम करना शुरू नहीं किया, तो उन्हें नौकरी से भी निकाला जा सकता है।

आपको जानकर हैरानी होगी कि कंपनी ने मार्च 2024 के अंत तक ही तकरीबन 3300 कर्मचारियों को नौकरी से निकल दिया है। हालांकि अभी कंपनी के पास 344,400 कर्मचारी मौजूद हैं।

कॉग्निजेंट ने की बड़ी सख्त:

दरअसल कॉग्निजेंट टेक्नोलॉजी सोलूशंस ने अपनी वर्क फ्रॉम ऑफिस पॉलिसी को सख्ती से लागू कर दिया है। कंपनी ने कई बार कर्मचारियों को ऑफिस से काम करने के लिए पत्र भेजे हैं, हालांकि जिसके बाद से ही ज्यादातर कर्मचारी अब ऑफिस से ही काम कर रहे हैं। लेकिन, कुछ लोग अभी भी वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। वहीं लाइव मिंट की एक रिपोर्ट की माने तो, कंपनी ने स्पष्ट किया है कि ऐसे कर्मचारियों को छंटनी जैसे गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।

जानिए क्या दिए जा रहे है निर्देश?

जानकारी के अनुसार कॉग्निजेंट ने इस साल की शुरुआत में ही अपने कर्मचारियों को निर्देश दिए थे कि वे कम से कम 3 दिन हफ्ते में ऑफिस आकर काम किया करें। वहीं कंपनी के सीईओ एस रवि कुमार ने भी ऑफिस से काम करने को लेकर कर्मचारियों से अपील की थी। हालांकि इसके बाद भी कंपनी के कई कर्मचारी काम पर नहीं लौटे हैं। वहीं अब कंपनी की नजर ऐसे कर्मचारी पर हैं, जिनके पास फिलहाल कोई प्रोजेक्ट नहीं चल रहा है। दरअसल इन कर्मचारियों को बार-बार रिमाइंडर भेजे गए हैं, लेकिन उन्होंने अब तक ऑफिस से काम करना शुरू नहीं किया है।

जानकारी दे दें कि आईटी सेक्टर की लगभग सभी बड़ी कंपनियां अब वर्क फ्रॉम होम को समाप्त कर रही हैं। इनमें टीसीएस, एचसीएल, विप्रो और टेक महिंद्रा जैसी बड़ी कंपनियां शामिल हैं। वर्क फ्रॉम होम के अंत के साथ ही आईटी सेक्टर में कर्मचारियों पर छंटनी का संकट मंडरा रहा है।


About Author
Rishabh Namdev

Rishabh Namdev

मैंने श्री वैष्णव विद्यापीठ विश्वविद्यालय इंदौर से जनसंचार एवं पत्रकारिता में स्नातक की पढ़ाई पूरी की है। मैं पत्रकारिता में आने वाले समय में अच्छे प्रदर्शन और कार्य अनुभव की आशा कर रहा हूं। मैंने अपने जीवन में काम करते हुए देश के निचले स्तर को गहराई से जाना है। जिसके चलते मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता और पत्रकार बनने की इच्छा रखता हूं।