राज्य के लाखों कर्मचारियों को मिलेगा तोहफा! फिर बढ़ेगा महंगाई भत्ता, 17 अक्टूबर को कैबिनेट बैठक

सरकार 3 प्रतिशत वृद्धि कर इसे 28 से 31 फीसदी कर सकती है।

employee news

रायपुर, डेस्क रिपोर्ट। छत्तीसगढ़ के 3.80 लाख सरकारी कर्मचारियों के लिए खुशखबरी है। दिवाली से पहले राज्य के कर्मचारियों को बड़ा तोहफा मिल सकता है। 17 अक्टूबर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में अहम कैबिनेट बैठक होना है, संभावना है कि इस बैठक में महंगाई भत्ते में एक बार फिर 3 से 6 प्रतिशत तक का इजाफा हो सकता है। वही एरियर और मकान भत्ते पर फैसला हो सकता है।हालांकि अभी अधिकारिक पुष्टि नहीं की गई है।कयास लगाए जा रहे है कि चुनाव से पहले सरकार यह बड़ा फैसला ले सकती है।

MP Teacher Recruitment 2022: उम्मीदवारों को बड़ी राहत, दस्तावेज अपलोड करने की डेट बढ़ी, DPI ने जारी की सूचना, जल्द होगी भर्ती

दरअसल, वर्तमान में राज्य के कर्मचारियों को 28 फीसदी डीए का लाभ मिल रहा है और संभावना है कि भूपेश सरकार 3 या प्रतिशत वृद्धि कर इसे 28 से 31 फीसदी या 34% कर सकती है। हालांकि कर्मचारियों ने केन्द्र के समान महंगाई भत्ते की मांग की है। बता दे कि बीते महीनों राज्य सरकार ने कर्मचारियों-पेंशनरों को आश्वासन दिया था कि दिवाली के मौके पर कर्मचारियों के डीए में फिर 3% वृद्धि की जाएगी, जिसके बाद राज्य कर्मचारियों का डीए 28% से बढ़कर 31% जाएगा।वही 1 जुलाई 2021 से देय एरियर्स जीपीएफ खाते में जमा होगा। हालांकि इसके लिए सरकार ने दिवाली और राज्य उत्सव तक का समय मांगा था, जो की नजदीक है।

यह भी पढ़े…MP: सीएम शिवराज 12 अक्टूबर को 15948 हितग्राहियों को देंगे तोहफा, खातों में भेजे जाएंगे 345 करोड़ 59 लाख रूपए

इधर, छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने सीएम से मांग की है कि 24 अक्टूबर को दीपावली है, ऐसे में 20 अक्टूबर तक वेतन तथा पेंशन के भुगतान के निर्देश दें। वही 3% महंगाई भत्ता कम से कम पूर्ण भुगतान का आदेश किया जाए ।साथ ही कहा कि कर्मचारियों के लंबित आर्थिक मांग 3% DA अर्थात 28 से बढ़ाकर अखिल भारतीय सेवा के अधिकारियों की भांति 31 प्रतिशत किए जाने, केंद्रीय कर्मचारियों के समान DA देय से प्रदान करने तथा एरियर का नगद भुगतान करने, 7 वें वेतनमान की एरियर्स की किश्त का भुगतान, जो कर्मचारियों की लंबित आर्थिक मांगे हैं, पर भी विचार कर निर्णय लिया जावे, ताकि कर्मचारी भी उत्साह पूर्वक दीपावली पर्व मना सके।