महाकुंभ पर पीएम मोदी की अपील के बाद रमजान को लेकर कंगना का बड़ा बयान

मनोरंजन, डेस्क रिपोर्ट। बीते दिनों हरिद्वार (haridwar) में लगातार बढ़ रही संक्रमित मरीजों (positive patients) की संख्या को देखते हुए महाकुंभ (mahakumbh) के शाही स्नान को प्रतीकात्मक करने की बात कही जा रही है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (narendra modi)  ने महाकुंभ के अखाड़ों से अपील की है कि दो शाही स्नान हो जाने के बाद अब महाकुंभ के शाही स्नान को प्रतीकात्मक रखा जाए। इसी बीच हमेशा अपने बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत (kangana ranaut) ने एक नया बयान देकर विवाद छेड़ दिया है।

दरअसल कंगना रनौत ने रमजान में होने वाली मिलन समारोह पर रोक लगाने की बात कही है। इतना भी नहीं कंगना रनौत ने पीएम मोदी से अपील करते हुए कहा है कि आप से निवेदन है कि कुंभ मेला के बाद रमजान में होने वाली मिलन समारोह पर भी पाबंदी लगाई जाए। हालांकि ट्वीट करने के बाद शायद कंगना ने इसे डिलीट कर दिया है क्योंकि अब ये ट्वीट सोशल मीडिया पर दिखाई नहीं दे रहा है।

Read More: पूर्व मंत्री की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव, बीते दिनों स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए दिए थे 20 लाख रूपए

वही कंगना के ट्वीट करने के कुछ ही देर के बाद लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया था। बता दें कि इससे पहले कुंभ में लगातार मिल रहे मरीजों की संख्या को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अखाड़ों से महाकुंभ को प्रतीकात्मक करने की अपील की थी। प्रधानमंत्री ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि आज आचार्य महामंडलेश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरी जी से फोन पर बात हुई थी। जहां मैंने प्रार्थना की है कि दो शाही स्नान हो चुके हैं।

अब कुंभ को कोरोना केस चलते प्रतीकात्मक रखा जाए और इस संकट की लड़ाई में एक ताकत की तरह मिलकर काम करें। जिसके बाद प्रधानमंत्री के ट्वीट पर कंगना रनौत ने रीट्वीट कर अपनी बात कही थी। हालांकि प्रधानमंत्री के निवेदन को स्वीकार करते हुए महाकुंभ के अखाड़ों ने शाही स्नान को प्रतीकात्मक रखने का समर्थन किया है इससे पहले 2 अखाड़ों ने शाही स्नान को समाप्त करने की बात कही थी।